Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, दिसम्बर 14, 2018 | समय 06:20 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

वाहन दुर्घटना बीमा के फर्जी मामलों की जांच अब एसटीएफ करेगी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Dec 8 2018 8:46PM
वाहन दुर्घटना बीमा के फर्जी मामलों की जांच अब एसटीएफ करेगी
जबलपुर, 08 दिसम्बर (हि.स.)| वाहन दुर्घटना बीमा के फर्जी मामलों की जांच अब एसटीएफ भी करेगी। एसटीएफ के अधिकारी बीमा कंपनियों से संपर्क कर उन प्रकरणों की तलाश में हैं जिनमें फर्जीवाड़े की आशंका है। कई निजी अस्पताल और वहां कार्यरत कुछ डॉक्टर भी एसटीएफ के निशाने पर हैं। एसटीएफ के मुताबिक इन्हीं के सहयोग से बीमा क्लेम के फर्जीवाड़े का गोरखधंधा फल-फूल रहा है। एसटीएफ को आशंका है कि इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर जैसे बड़े शहरों सहित पूरे प्रदेश में सक्रिय संगठित गिरोह द्वारा बीमा क्लेम में फर्जीवाड़ा किया जा रहा है। इसमें पुलिस, कानून के जानकार, वाहन मालिक, चालक और निजी अस्पताल के साथ कुछ डॉक्टर भी शामिल हैं।एसटीएफ सूत्रों ने बताया कि विभिन्न तरह के हादसों में घायलों को मोटी रकम की लालच देकर मामले को सड़क हादसा बना दिया जाता है। इसी के साथ फर्जीवाड़े का बड़ा रैकेट सक्रिय हो जाता है। सभी अपने-अपने स्तर पर फर्जीवाड़ा शुरू कर देते हैं। अजय कुमार रैकवार जैसे लोगों को वाहन चालक बना दिया जाता है। दुर्घटना में शामिल बताने के लिए वाहनों की भी व्यवस्था कर ली जाती है। डॉक्टर अपनी रिपोर्ट में ज्यादा जोखिम बताता है। साथ ही ज्यादा खर्च वाला मैन्युअल बिल अस्पताल से जारी किया जाता है, जिसके आधार पर ज्यादा क्लेम लिया जा सके। एसटीएफ सूत्रों का कहना है कि बीमा कंपनियों से प्रथम चरण में उन प्रकरणों की जानकारी मांगी गई है जिनमें गड़बड़ियां उजागर होने पर क्लेम संबंधी भुगतान को रोका गया है। इस प्रक्रिया के बाद उन बीमा पॉलिसियों की भी जांच की जाएगी, जो ऑफलाइन किए गए थे। बताया जा रहा है कि ऑफलाइन पॉलिसियों में ज्यादा गड़बड़ी की गई है। हिन्दुस्थान समाचार / ददन
image