Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, दिसम्बर 10, 2018 | समय 12:10 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

जमीन कारोबारी की हत्या में शामिल शूटर गिरफ्तार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Dec 8 2018 8:29PM
जमीन कारोबारी की हत्या में शामिल शूटर गिरफ्तार
बोकारो, 08 दिसम्बर (हि.स.)। (अपडेट) बोकारो के जरीडीह थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम तेतरियाडीह में जमीन कारोबारी रघुनंदन सिंह का सुपारी किलर कलेवर सिंह पुलिस के हत्थे अंततः चढ़ ही गया। पारिवारिक विवाद के चलते हुई इस हत्या में कलेवर सिंह ने रघुनंदन पर बीते 29 अक्टूबर 2018 को गोलियां चलाई थी, जिससे उसकी मौत हो गई थी। पुलिस ने मामले के अनुसंधान एवं छापामारी के क्रम में कलेवर सिंह को जरीडीह थाना क्षेत्र अंतर्गत गायछंदा गांव स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया। पूछताछ के क्रम में उक्त हत्या में कलेवर ने अपना दोष स्वीकार किया। उसके पास से घटना में प्रयुक्त एक देसी कट्टा समेत एक जिंदा गोली बरामद किया गया है। इस आशय की जानकारी शनिवार को आयोजित एक पत्रकार-वार्ता में पुलिस अधीक्षक कार्तिक एस. ने दी। उन्होंने बताया कि कलेवर सिंह का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है। ठेकेदार रामसेवक सिंह के घर हुई डकैती में भी कलेवर सिंह का हाथ था। इतना ही नहीं, रामगढ़, बोकारो, धनबाद जिले में इसके विरुद्ध कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। चोरी, लूट की कई घटनाओं को उसने अंजाम दिया है और पहले भी जेल जा चुका है। दबाव बनाने में हुआ विफल तो कर दिया कत्ल एसपी ने बताया कि रघुनंदन सिंह की हत्या जमीनी विवाद को लेकर की गई थी, जिसे कलेवर सिंह ने खुद स्वीकार भी किया है। उत्तर अपराधी किसी एक विवादित जमीन के संदर्भ में रघुनंदन सिंह को समझौता करने के लिए दबाव डाल रहा था। नहीं मानने पर कलेवर सिंह के द्वारा उक्त घटना को अंजाम देने की बात बताई गई। पार्टी में बनाई थी योजना एसपी के अनुसार पूछताछ के क्रम में यह बात प्रकाश में आई है कि कलेवर सिंह ने हत्या की घटना को अंजाम देने के पहले अपने घर गायछन्दा में भेड़ काटकर खाया था। वहीं पर अपने एक साथी के साथ उसने उक्त घटना की योजना बनाई थी। उल्लेखनीय है कि कलेवर सिंह कुख्यात डकैत विभास पासवान गिरोह के एक सक्रिय सदस्य के रूप में अपराधों को अंजाम देता रहा है। पिंकू के साथ मिलकर उसने रामसेवक सिंह के घर डाके को अंजाम दिया था। उक्त घटना के उद्भेदन में जरीडीह थाना प्रभारी रूपेश कुमार दुबे तथा कसमार थाना प्रभारी रंजीत कुमार सहित सशस्त्र बल के पुलिसकर्मी शामिल रहे। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक/विकास
image