Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, फरवरी 16, 2019 | समय 18:34 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

राष्ट्रीय मसलों पर ठोस नीति नहीं बना सकी भाजपा: अखिलेश यादव

By HindusthanSamachar | Publish Date: Dec 8 2018 8:30PM
राष्ट्रीय मसलों पर ठोस नीति नहीं बना सकी भाजपा: अखिलेश यादव
लखनऊ, 08 दिसम्बर (हि.स.)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा ने केन्द्र और राज्य में जब से सत्ता संभाली है वह राष्ट्रीय मसलों पर कोई ठोस नीति नहीं बना सकी है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था को चौपट करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। साथ ही जनसामान्य की जिंदगी को भी तबाह करने का काम किया है। उसकी प्राथमिकता में कभी गरीब, किसान, नौजवान नहीं रहे हैं, इसलिए जनहित की कोई योजना भाजपा सरकारों ने लागू नहीं की है। अखिलेश यादव ने शनिवार को जारी बयान में कहा कि लोकसभा चुनाव नज़दीक आते ही भाजपा ने समाज को तोड़ने और तनाव पैदा करने की साजिशें तेज कर दी हैं। इसके लिए भाजपा नेता विवादास्पद बयान देकर प्रदेश में अशांति फैलाने और अराजक स्थिति पैदा करने में लग गए हैं। इसके लिए उन्होंने अपने पुराने तरीके जाति-संप्रदाय की राजनीति को अपनाना शुरू किया है। जबकि जरूरत इस बात की है कि विकास को ही पूजा मानकर उसे प्राथमिकता में रखना चाहिए। भाजपा नेता यह समझने में भयंकर भूल कर रहे हैं कि बुनियादी मुद्दों से ध्यान हटाकर वे मतदाताओं को गुमराह करने में सफल हो जाएंगे। अखिलेश ने कहा कि मोदी सरकार के दौरान नफरत में 500 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है। नफरत वाले बयान देने में 90 प्रतिशत भाजपा के नेता हैं। भाजपा के तमाम नेताओं में ऊटपटांग बयान देने के मामले में लगता है प्रतियोगिता चलती रहती है। इसका उद्देश्य समाज के बीच भेदभाव और विषमता पैदा करना है तथा परस्पर सद्भाव के माहौल में जहर घोलना है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी लोकतंत्र, समाजवाद और धर्मनिरपेक्षता के लिए प्रतिबद्ध है। उसका मानना है कि देश का विकास होगा तो सभी खुशहाल होंगे। किसान और व्यापारी समृद्ध होगा तो अर्थव्यवस्था भी मजबूत होगी। भाजपा सरकार ने तो देश को अन्य देशों के मुकाबले पीछे कर दिया है। जो लोग विकास विरोधी हैं वे ही जनविरोधी कामों को बढ़ावा देने और संविधान के ढांचे को कमजोर करने का काम करते हैं। हिन्दुस्थान समाचार/बृजनन्दन/दीपक/संजय
लोकप्रिय खबरें
चुनाव 2018
image