Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, दिसम्बर 10, 2018 | समय 12:09 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

मतगणनाकर्मियों को दिया गया मतों की गणना का प्रशिक्षण

By HindusthanSamachar | Publish Date: Dec 8 2018 8:21PM
मतगणनाकर्मियों को दिया गया मतों की गणना का प्रशिक्षण
विदिशा, 08 दिसम्बर (हि.स.)। विदिशा जिले की पांचों विधानसभाओं के मतों की गणना का कार्य 11 दिसम्बर की सुबह आठ बजे से शुरू होगा। मतगणना संपन्न कराने के लिए 686 अधिकारी-कर्मचारियों को दायित्व सौंपे गए हैं। इस सभी कर्मचारियों के लिए द्वितीय चरण का प्रशिक्षण शनिवार को एसटीआई के कक्षों में दो पालियों में सम्पन्न हुआ। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने प्रथम पाली के प्रशिक्षणार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया का मतगणना महत्वपूर्ण अंग है। जिन अधिकारी, कर्मचारियों को मतगणना का दायित्व सौंपा गया है वे सभी पूर्ण निष्पक्ष, निर्भीक होकर गणन संबंधी कार्य अपनी-अपनी टेबिलों पर सम्पन्न कराएं। जहां कही जरा भी दुविधा होती है तो निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों का पालन कर निर्णय करें। कलेक्टर ने बताया कि सबसे पहले डाक मतपत्रों की गणना की जाएगी। डाक मतपत्र की गणना कैसे करनी है कि प्रायोगिक जानकारी उनके द्वारा दी गई। डाक मतपत्र कैसे खारिज होंगे, पोस्टल बैलेट गणना उपरांत फार्मेट भरना, ईव्हीएम से मतों की गणना, मतगणना प्रारंभ होने के बाद अनवरत जारी रहेगी। प्रथम राउण्ड की सीयू की गणना समाप्त होने, टेबुलेशन सीट तैयार होने व आरो एवं आब्जर्वर के हस्ताक्षर होने के उपरांत दूसरे राउण्ड की सीयू गणना हेतु लाई जाएगी। व्हीव्हीपैट पर्चियों की गणना के संबंध में भी कलेक्टर द्वारा विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। जिसमें मुख्य रूप से प्रति विधानसभा रेण्डमली सिलेक्टेड एक मतदान केन्द्र की व्हीव्हीपैट की पर्चियों की गणना मतदान के आखिरी राउण्ड समाप्ति उपरांत की जाएगी। ऐसे मतदान केन्द्र का चयन आरो अथवा अभ्यर्थी, अभिकर्ता एवं सामान्य प्रेक्षक की उपस्थिति में लाट डालकर किया जाएगा। लॉटरी गणना हाल में ही अंतिम राउण्ड की गणना समाप्ति उपरांत तत्काल निकाली जाएगी। व्हीव्हीपेट मतदाता पर्ची सत्यापन प्रक्रिया की सूचना आरो द्वारा पर्याप्त समय पूर्व अभ्यर्थी अथवा उसके अभिकर्ता को लिखित में देकर पावती रखी जाएगी। लॉटरी निकालने के लिए जो प्रक्रिया अपनाई जाएगी के संबंध में बताया गया कि लाट हेतु सफेद रंग के कार्ड पेपर जिनका आकार पोस्ट कार्ड के बराबर होगा पूर्व में तैयार किए जाएंगे। इन कार्डो की कुल संख्या मतदान केन्द्रों की संख्या के बराबर होगी। कार्ड पर पूर्व से निम्न सूचनाएं मुद्रित होगी जिसमें टॉप पर विधानसभा क्षेत्र का नाम व क्रमांक, मतदान का दिनांक, मध्य में केवल एक बाई एक इंच आकार के अंको में मतदान केन्द्र का क्रमांक लिखा होगा। कार्ड को दो बार इस प्रकार मोडा जाएगा कि उसके चार फोल्डर बना जाएं व मतदान केन्द्र क्रमांक ना दिखें। क्रमांक संख्यित प्रत्येक कार्ड को पारदर्शी कंटेनर में डालने से पूर्व अभ्यर्थी, उनके अभिकर्ता को दिखाया जाएगा। रिटर्निंग आफीसर द्वारा कार्ड निकालने से पहले कंटेनर को हिलाया जाएगा ताकि सभी कार्ड मिक्स हो जाएं काउंटिग हाल में ही काउंटिग टेबिल पर व्हीव्हीपैट काउंटिंग बूथ (व्हीसीवी) के रूप में ठीक वैसे ही बदला जाएगा जैसे बैंक कैशियर का केबिन पर यह सुनिश्चित किया जाएगा कि कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति व्हीव्हीपैट स्लिप तक पहुंच ना बना सकें। इन पर्चियों की गणना के दौरान रिटर्निंग आफीसर व सहायक रिटर्निंग आफीसर पूरी निगरानी रखेंगे व आब्जर्वर यह सुनिश्चित करेंगे कि गणना के दौरान आयोग के निर्देशों का पालन किया जा रहा है। उपरोक्त प्रक्रिया की पूर्ण वीडियोग्राफी भी की जाएगी। कलेक्टर ने मतगणना के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों पर भी प्रकाश डाला। द्वितीय चरण के प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल मतगणनाकर्मियों को अपर कलेक्टर एचपी वर्मा ने भी सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि मतगणनाकर्मियों को आयोग के दिशा निर्देशानुसार मानदेय दिया जाएगा अत: ऐसे मतगणनाकर्मी जिनके द्वारा अब तक स्वंय का बैंक खाता संबंधी दस्तावेंज उपलब्ध नही कराये है वे शीघ्र ही उपलब्ध कराएं। अपर कलेक्टर वर्मा ने बताया कि मतगणन परिसर में मोबाइल के साथ-साथ तम्बाकू, पान, गुटखा, बीडी सिगरेट एवं केलकुलेटर ले जाना प्रतिबंधित रहेगा। कलेक्टर ने देखी स्ट्रांगरूम की सुरक्षा व्यवस्था कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिह ने एसएटीआई में पांचों विधानसभाओं के बनाए गए स्ट्रांगरूम एवं परिसर की सुरक्षा व्यवस्था का शनिवार की दोपहर एक बजे मौके पर पहुंचकर जायजा लिया। तैनात सुरक्षाकर्मियों और अधिकारियों ने पूर्ण सुरक्षा प्रबंधों से पुन: अवगत कराया। कलेक्टर ने स्ट्रांगरूम में संधारित निरीक्षण टीप पंजी में बकायदा मतांकन कर हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर विदिशा एसडीएम चंद्रप्रताप गोहल, तहसीलदार आसुतोष शर्मा भी मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश
image