Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, दिसम्बर 10, 2018 | समय 03:28 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

अगले माह स्नातक उत्तीर्ण डेढ़ लाख लड़कियों के खाते में डाले जायेंगे 25-25 हजार:सुमो

By HindusthanSamachar | Publish Date: Dec 8 2018 8:00PM
अगले माह स्नातक उत्तीर्ण डेढ़ लाख लड़कियों के खाते में डाले जायेंगे 25-25 हजार:सुमो
पटना, 08 दिसंबर (हि.स.)| बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए अनेक कदम उठाए हैं । स्थानीय होटल में आयोजित ‘महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का एक सार्थक प्रयास’ नामक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए शनिवार को उन्होंने कहा कि लड़कियों को जहां मात्र एक प्रतिशत साधारण ब्याज पर सरकारी खजाने से 4 लाख तक का शिक्षा ऋण दिया जा रहा है, वहीं एक लड़की के पैदा होने से लेकर स्नातक उत्तीर्ण करनेे तक विभिन्न चरणों में 54 हजार रुपये उसके खाते में डाले जा रहे हैं | अगले महीने इंटर व स्नातक उत्तीर्ण डेढ़ लाख लड़कियों को 25-25 हजार रुपये दिए जायेंगे। सुशील मोदी ने कहा कि एनडीए की सरकार ने 2006 में पंचायत और नगर निकायों के चुनाव में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण दिया जिससे व्यापक बदलाव हुआ। उन्होंने कहा कि महिलाएं न केवल सभा को सम्बोधित करने लगीं , बल्कि बच्चों को पढ़ाने व अपने घरों में शौचालय बनाने की भी पहल की। प्रधानमंत्री की पहल के बाद आज देश में जहां 97 प्रतिशत घरों में वहीं बिहार के 84 प्रतिशत घरों में शौचालय का निर्माण हो चुका है। अगले साल मार्च तक बिहार का कोई ऐसा घर नहीं बचेगा जहां शौचालय नहीं होगा। उन्होंने कहा कि 2008-09 में सरकार द्वारा वर्ग 9 में पढ़ रही डेढ़ लाख लड़कियों को साइकिल योजना के तहत 3-3 हजार रुपये दिए गए, वहीं अब उनकी संख्या बढ़कर 7.5 लाख हो गयी है । सरकारी नौकरियों में महिलाओं को 35 प्रतिशत आरक्षण दिया गया है। अभी हाल में हुई पुलिस की बहाली में 50 प्रतिशत महिलाएं चयनित की गयी हैं । सुशील मोदी ने कहा कि महिलाओं को देखने का नजरिया बदलने की आवश्यकता है । उन्होंने कहा कि सरस्वती, लक्ष्मी और दुर्गा को समाज ने शिक्षा, धन और शक्ति का प्रतीक तो मान लिया मगर महिलाओं को इनसे वंचित कर दिया। उन्होंने कहा कि सशक्तीकरण के बिना देश शक्तिशाली नहीं हो सकता है। हिन्दुस्थान समाचार / रजनी/शंकर
image