Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 23:39 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

अपडेट : जो रथयात्रा को रोकने की कोशिश करेगा वह पहियों तले कुचला जाएगा : लॉकेट

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 10 2018 9:58PM
अपडेट : जो रथयात्रा को रोकने की कोशिश करेगा वह पहियों तले कुचला जाएगा : लॉकेट
कोलकाता, 10 नवंबर (हि.स.)। पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा की महिला मोर्चा की अध्यक्ष लॉकेट चटर्जी ने शनिवार को तृणमूल को चेतावनी देते हुए कहा है कि जो भी भाजपा की रथयात्रा को रोकने की कोशिश करेगा वह रथ के पहियों तले कुचला जाएगा। इस दिन लॉकेट मालदा जिले में थीं और रथ यात्रा की तैयारियों का जायजा लेने के बाद जनसभा को संबोधित कर रही थीं। ज्ञात हो कि असम में उग्रवादी हमले के खिलाफ तृणमूल की ओर से निकाली गई धिक्कार रैली में शामिल हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने कहा था कि एक बार ममता बनर्जी निर्देश दे दें तो रथ यात्रा का चक्का रोक दिया जाएगा। दूसरे दिन उन्होंने बांकुड़ा में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि मुख्यमंत्री निर्देश दें तो भाजपा का "ब" भी नहीं रहने दूंगा। अभिषेक राज्य में ममता बनर्जी के उत्तराधिकारी हैं ऐसे में उनका बयान बेहद अहम माना जाता है। इसी के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में शनिवार को लॉकेट चटर्जी ने कहा, "भाजपा की रथयात्रा लोकतंत्र बचाने की यात्रा है। इसे रोकने की कोशिश करने वाले इसके पहियों तले कुचल दिए जाएंगे। लॉकेट ने कहा कि पश्चिम बंगाल में चारों ओर हिंसा का माहौल बन गया है। हर ओर विपक्ष को मारा पीटा और मौत के घाट उतारा जा रहा है। राज्य के लोगों को इस हिंसक माहौल से मुक्ति दिलाने के लिए भाजपा ने लोकतंत्र बचाओ रथ यात्रा करने का निर्णय लिया है। इसे रोकने वाले रथ के पहियों के तले कुचले जाएंगे।" ज्ञात हो कि 2019 के आम चुनाव से पहले राज्य की सभी 42 लोकसभा सीटों पर व्यापक जनसंपर्क अभियान की रणनीति के तहत भाजपा ने रथ यात्रा करने का निर्णय लिया है। पहली तीन यात्राएं 5, 7 और 9 दिसंबर को क्रमशः तारापीठ, कूचबिहार और दक्षिण 24 परगना के गंगासागर से शुरू होगी जिसका उद्घाटन भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह करने वाले हैं। इस रथ यात्रा को लेकर पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल के नेता मंत्री लगातार हमलावर हैं। तृणमूल के अलावा माकपा और कांग्रेस ने भी इस रथयात्रा को भाजपा की सांप्रदायिक ध्रुवीकरण की कोशिश करार दिया है एवं इसे रोकने के लिए ममता बनर्जी को चुनौती भी दी है। माकपा के राज्य महासचिव सूर्यकांत मिश्रा ने कहा था कि आडवाणी की रथयात्रा को लालू यादव ने बिहार में रोक कर उन्हें गिरफ्तार करवा दिया था। अगर ममता में साहस है तो भाजपा की रथयात्रा रोक कर दिखाएं। इसके साथ ही सूर्यकांत ने यह भी कहा था कि अगर जरूरत पड़ेगी तो माकपा भी अपने दल बल के साथ भाजपा की इस सांप्रदायिक यात्रा को रोकेगी। इसके अलावा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सोमेन मित्रा ने भी कहा था कि भाजपा की रथयात्रा सांप्रदायिक सद्भावना को बिगाड़ने की यात्रा है। कांग्रेस अपने कार्यकर्ताओं के साथ इसकी राह में रोड़ा बनेगी। माना जा रहा है कि लॉकेट चटर्जी का यह बयान एक साथ पक्ष विपक्ष को जवाब के रूप में दिया गया है। हालांकि सत्तारूढ़ तृणमूल इसे हिंसा को बढ़ावा देने वाला बयान बता रही है। हिन्दुस्थान‌ समाचार/ओम प्रकाश
image