Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 06:51 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

थम गया चुनाव प्रचार, अंतिम दिन जमकर हुआ चुनावी प्रचार-प्रसार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 10 2018 9:18PM
थम गया चुनाव प्रचार, अंतिम दिन जमकर हुआ चुनावी प्रचार-प्रसार
जगदलपुर, 10 नवंबर (हि.स.)। छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव का प्रथम चरण का प्रचार थम गया। इससे पूर्व प्रत्याशियों ने इनकी आखिरी कवायद के रूप में अलग-अलग मार्ग पर जुलूस के शक्ल में घर-घर दस्तक देने के अलावा मोटर सायकल सहित अन्य वाहनों में जमकर प्रचार-प्रसार किया। छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण के दौरान आगामी 12 नवंबर को मतदाता अपना मतदान का प्रयोग करेंगे। इससे 48 घंटे पूर्व चुनाव शोरगुल थम गया। प्रचार के लिये निर्धारित समयावधि के पूर्व शहर में भाजपा, कांग्रेस, जोगी कांग्रेस, भाकपा, आप एवं शिवसेना ने रैली निकालकर जनसंपर्क तेज किया। ध्वनि विस्तारक यंत्र पर कांग्रेस और भाजपा ने गीत, गजल और लोकगीतों के जरिये अपनी-अपनी पार्टी की रीति-नीतियों का वर्णन कर जनता को लुभाने की कोशिश एक ओर की जा रही थी, वहींं दूसरी ओर इन प्रमुख राजनीतिक दल के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने राजनीतिक दलों का अंतिम प्रचार जोर शोर से किया। भाजपा प्रत्याशी संतोष बाफना ने भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ रैली निकालकर पूरे नगर का भ्रमण किया। यह रैली शहर में विभिन्न मार्गों से जोश खरोश के साथ नारे लगाकर भाजपा प्रत्याशी संतोष बाफना को जिताने की अपील कर रही थी। इसके अलावे संतोष बाफना के साथ ही उनकी पत्नी और भाजपाईयों ने शहर के सभी वार्डों में भ्रमण कर भाजपा को जिताने की अपील की। संतोष बाफना ने कहा कि सिर्फ भाजपा ही ऐसी पार्टी है जो गांव, गरीब और किसानों का हित करती है। भाजपा शासन में चहुुंओर विकास की गंगा बही है और गांव खुशहाल हुआ है। भाजपा शासन में बस्तर में मेडिकल कालेज की स्थापना और स्टील प्लांट का शुभारंभ होने जा रहा है। इधर कांग्रेसी शहर में रैली के शक्ल में पदयात्रा कर जन-जन से संपर्क कर कांग्रेस को वोट देने की अपील कर रहे थे। हजारों की संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता सोनिया गांधी और राहुल गांधी के जय-जय कार करते कांग्रेस प्रत्याशी रेखचंद जैन के पक्ष में मतदान करने की अपील कर रहे थे। कांग्रेस के कार्यकर्ता और पदाधिकारी गण शहर के दोनों ओर के दुकानदारों के अलावा यहॉं निवासरत मतदाताओं से भी घर-घर जाकर जन संपर्क करते रहे। आप के प्रत्याशी ने ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी मुहिम तेज कर रखी है। अलबत्ता शिवसेना प्रत्याशी करिया सिंह दीवान रैली निकालकर अपना चुनाव प्रचार में इधर कुंआ उधर खाई बीच में दीवान भाई का नारा बुलंद कर शहर के विभिन्न मार्गों पर हाथ जोडकर अपने पक्ष में वोट मांग रहे थे। बैनर पोस्टर और पोलिंग में जहां प्रचार के दौरान युद्घ चल रहा था, वहीं वाक युद्घ और एक दूसरे के प्रति परचेबाजी, बयानबाजी और अखबारों में इस्तेहार तक निकालकर प्रत्येक प्रत्याशियों ने अपनी ओर मतदाताओं को आक र्षित करने का कार्य किया है। कुल मिलाकर चुनाव प्रचार में सरगर्मी बढ़ी है और सभी दल के प्रत्याशी अपने-अपने सफलता के प्रति निश्चिंत होकर क्षेत्र से अपना प्रतिनिधित्व पुख्ता बनाये रखने का प्रयास करने में लगे हैं। पिछले चुनाव में यद्यपि चुनाव प्रचार के दौरान सरगर्मी रही है, फिर भी इस वर्ष चुनाव की सरगर्मी सिर चढकर बोल रही है। हिन्दुस्थान समाचार / सुधीर / गेवेन्द्र
image