Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 06:48 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

बागियों को मनाने शुरू हुआ मान-मनौव्वल का दौर

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 10 2018 8:50PM
बागियों को मनाने शुरू हुआ मान-मनौव्वल का दौर
गुना, 10 नवम्बर (हि.स.)। विधानसभा चुनाव को लेकर प्रक्रिया का पहला चरण नामांकन दाखिले के साथ पूरा हो चुका है। इसके बाद अब नामांकन पत्रों की जांच होगी और फिर नाम वापसी का दौर चलेगा, जिसकी अंतिम तारीख 14 नवंबर है। इसके बाद पूरा परिदृश्य साफ होकर सामने आएगा। फिलहाल की स्थिति में नामांकन दाखिले के बाद 65 प्रत्याशी मैदान में शेष रह गए हैं। इनमें दोनों प्रमुख राजनीतिक दल भाजपा और कांग्रेस के प्रत्याशी शामिल है तो निर्दलीय सहित अन्य दलों के प्रत्याशियों ने भी चुनाव में ताल ठोंकी है। इसके साथ ही टिकट की उम्मीद पूरी न होने से दलों से बागी भी गुस्साकर चुनावी रण में कूद चुके है। अब जबकि नामांकन दाखिले की प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है तो इन बागियों को मनाने मान-मनौव्वल का दौर शुरु हो गया है, जो 14 नवंबर तक चलेगा। इसके साथ ही बागियों पर कार्रवाई भी होने लगी है। केएल पर लगी हुई है सभी की निगाहें बागियों की भीड़ में सभी की निगाहें बमौरी से भाजपा के बागी पूर्व मंत्री केएल अग्रवाल पर लगी हुई है। भाजपा ने बमौरी से ब्रजमोहन सिंह आजाद को अपना प्रत्याशी बनाया है, जिसके खिलाफ पूर्व मंत्री केएल अग्रवाल निर्दलीय मैदान में कूद पड़े है। नामांकन दाखिले के दौरान केएल ने काफी भीड़ जुटाकर अपनी ताकत भी दिखाई। केएल अब चुनाव लड़ते है या अपने कदम वापस खींचकर पार्टी के साथ आते है, यह चुनावी चर्चा का विषय बना हुआ है, वहीं दोनों दलों से कुछ अन्य ने भी अपने नामंाकन दाखिल किए है, किन्तु उनका कोई शोरशराबा सुनने को नहीं मिल रहा है। सुनील के तेवर ठंडे पड़े, पन्नालाल भी माने कांग्रेस से नपा में नेता प्रतिपक्ष सुनील मालवीय के तेवर भी अब ठंडे पड़ गए है। बता दें कि गुना विधानसभा से कांग्रेस ने चन्द्रप्रकाश अहिरवार को अपना प्रत्याशी बनाया है। जिस पर नाराजगी जताते हुए सुनील मालवीय सुनील मालवीय ने अपने समर्थकों के साथ सार्वजनिक रुप से पार्टी पदाधिकारियों के खिलाफ नारेबाजी की थी। जिस पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष विठ्ठलदास मीना ने उन्हे नोटिस जारी करते हुए नेता प्रतिपक्ष से हटा दिया था। इसके बाद सुनील ने खुद को पार्टी का निष्ठावान सिपाही बताया है, वहीं गुना विधानसभा से अपना टिकट कटने के बाद नाराज हुआ गुना विधायक पन्नालाल शाक्य भी मान गए है। उन्होने भाजपा प्रत्याशी गोपीलाल जाटव का नामांकन भी भरवाया। वरिष्ठजन कर रहे है चर्चा रुठों और बागियों को मनाने के लिए जिला स्तर पर तो प्रयास किए ही जा रहे है, साथ ही वरिष्ठजन भी उनसे चर्चा करने में लगे हुए है। इसके लिए शुभचिंतकों को परिचितों की मदद भी ली जा रही है। साथ ही तमाम तरह के लुभावने प्रस्ताव भी रुठों और बागियों के समक्ष परोसे जा रहे है। इतना ही नहीं चेतावनी के साथ कार्रवाई के कोड़े चलना भी शुरु हो गए है। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक
image