Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 11:36 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

फेक न्यूज की जांच और ऑनलाइन सत्यापन की कार्यशाला में दी जानकारी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 10 2018 8:17PM
फेक न्यूज की जांच और ऑनलाइन सत्यापन की कार्यशाला में दी जानकारी
जयपुर, 10 नवम्बर (हि. स.)। फेक न्यूज पर रोक लगाने और इसे लेकर जागरुकता फैलाने के उद्देश्य से गूगल की ओर से प्रेस क्लब में शनिवार को एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। पत्रकारों को तथ्यों की जांच और ऑनलाइन सत्यापन में सक्षम बनाने के उद्देश्य से गूगल सर्टिफाइड ट्रेनर प्रोफेसर उमेश आर्य ने कई महत्वपूर्ण जानकारी साझा की। मुख्य वक्ता के रूप में मौजूद प्रो. आर्य ने फेक न्यूज की जांच परख करने पर विस्तृत चर्चा की। इसमें टेक्स्ट, इमेज और विजुअल वीडियो सभी की जांच करने के गुर सिखाए गए। प्रो़ आर्य ने मॉर्फ्ड इमेज यानी संपादित तस्वीर को जांचने के तरीके बताए। गूगल के कई टूल्स हैं जो तस्वीरों को जांचने के मददगार साबित होते हैं। इसमें सबसे प्रमुख टूल गूगल रिवर्स इमेज सर्च का है। इस टूल के जरिए गूगल डेटाबेस से किसी भी तस्वीर की जांच की जा सकती है। तस्वीर की असलियत गूगल सर्च करके सामने आ सकती है। हालांकि किसी भी फोटो की सत्यता जांचने के लिए जरूरी है कि व्यक्ति अपनी समझ का भी इस्तेमाल कर सके। कार्यशाला में वीडियो को पढ़ने और जांचने के टिप्स बताए। उन्होंने बताया कि किसी भी वीडियो को जांचने के लिए यूट्यूब डेटा व्यूअर एप की मदद ली जा सकती है। स्वयं वीडियो की सत्यता जांचने के लिए बैकग्राउंड, भाषा, पहनावा, लोग, गाडि़यों, बोर्ड जैसे चीजों पर ध्यान देना चाहिए। टेक्स्ट यानी लिखित शब्दों की सत्यता जांचने के लिए भी उन्होंने कई टिप्स बताए। इसके लिए भी उन्होंने गूगल सर्च पर जाकर शब्दों को सर्च करने के बारे में बताया। साथ ही अपने सर्च को संक्षिप्त करने के लिए भी कई शॉर्टकट साझा किए। हिन्दुस्थान समाचार/ रितिका/संदीप
image