Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 06:57 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

कांग्रेस की सूची में दिग्गजों के नाम पर बड़ा मंथन

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 10 2018 7:49PM
कांग्रेस की सूची में दिग्गजों के नाम पर बड़ा मंथन
जयपुर, 10 नवम्बर (हि.स.)। दिल्ली में लगातार दूसरे दिन भी कांग्रेस वॉर रूम में प्रत्याशियों के चयन को लेकर कसरत जारी रही। इसमें फिर जयपुर सहित बाकी संभागो की सीटों पर मंथन चलता रहा। मंथन में जीताऊ और सर्वमान्य चेहरे की तलाश होती रही लेकिन एक नाम पर सहमति बनना आसान नहीं दिखा। अधिकांश सीटों पर कांग्रेस को अपने ही नेताओं के बागी होने का खतरा भी सता रहा है। इस कारण सूची में अभी और विलम्ब होने की आशंका जताई जा रही है। राजस्थान में कांग्रेस की चुनावी सूची में वरिष्ठों और युवाओं के बीच तालमेल बैठना चुनौतिपूर्ण बन चुका है। राहुल गांधी के दिए गए दिशा-निर्देश के बाद युवाओं और महिलाओं पर ज्यादा फोकस किया है। कांग्रेस दिग्गज को तभी टिकट देंगी जब वह चेहरा पूरी तरह जीताऊ हो। पूर्व मोदी लहर में हारे कांग्रेस के करीब 40 से 50 दिग्गज नेता इस बार भी टिकट मांग रहे हैं। इनमें दो दर्जन नाम तो ऐसे है जिनका प्रदेश के संभागों, जिलों में बड़ा दखल है। कांग्रेस के लिए संकट यह भी है कि बड़े नेता अपना टिकट तो मांग ही रहे है साथ ही उनके समर्थक को दूसरे विधानसभा क्षेत्र से टिकट दिलाना चाह रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस के लिए दिग्गजों से पार पाने की चुनौती बड़ी है। दूसरे दिन कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की बैठ के दौरान पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने कहा कि सिंगल नाम का पैनल बनाकर भेजने की कोशिश की जा रही है। हर सीट पर नाम पर सर्वसम्मति बनाने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं कांग्रेस में भी भाजपा की तरह बाहरी प्रत्याशी को टिकट देने की मांग पर विरोध सामने आने लगा है। सांगानेर से स्थानीय कांग्रेस नेताओं का प्रतिनिधिमंडल प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट से मिलकर स्थानीय नेताओं को टिकट देने की मांग कर चुका है। यह लोग सांगानेर से पुष्पेन्द्र भारद्वाज और सुरेश मिश्रा को बाहरी बताकर उनके टिकट का विरोध कर रहे हैं। 12 या 13 तक आएगी सूची सूत्रों की माने तो कांग्रेस पहले भाजपा की सूची का इंतजार कर रही है इसके बाद कांग्रेस अपनी सूची जारी कर सकती है। भाजपा में हॉट सीट पर नाम सामने आने से उनके विरूद्ध प्रत्याशी चयनित कर उतरना कांग्रेस के लिए आसान होगा। अभी भाजपा की सूची 11 तक जारी होने की बात कही जा रही है। इसके देखते हुए कांग्रेस अपने पत्ते नहीं खोल रही है। कांग्रेस में भी 40 नाम ऐसे है जिन सीटों पर कोई विरोध नहीं है लेकिन यूथ और महिलाओं को महत्व देने के लिए इस बार दिग्गजों की सीट को भी खतरा दिख रहा है। शेखावटी और हाडौती पर बड़ा मंथन दिल्ली में करीब ढाई घंटे से ज्यादा समय तक 15, जीआरजी रूम में आयोजित बैठक में काग्रेस प्रत्याशियों के चयन में बड़ा मंथन हुआ। इसमें पूर्वी राजस्थान, जयपुर देहात, मेवाड़, हाड़ौती, बीकानेर, शेखावाटी और नागौर की सीटों पर मंथन हुआ। कांग्रेस में सिंगल पैनल बनाने को लेकर चर्चा चली। हिन्दुस्थान समाचार/ प्रशांत/ ईश्वर
image