Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, नवम्बर 16, 2018 | समय 23:10 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

केन्द्रीय प्रेक्षकों ने की चुनावी तैयारियों की समीक्षा

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 10 2018 7:50PM
केन्द्रीय प्रेक्षकों ने की चुनावी तैयारियों की समीक्षा
रायसेन, 10 नवम्बर (हि.स.)। विधानसभा निर्वाचन-2018 में भारत निर्वाचन आयोग के नियमानुसार कार्य सम्पादन के लिए जिले में नियुक्त किए गए पांच केन्द्रीय प्रेक्षकों सुभाष त्रिवेदी, डॉ विपिन शर्मा, शरद एल अहिरे, धन्नजय हेमब्रम तथा संजय यादव ने जिला कार्यालय में बैठक लेकर विधानसभा निर्वाचन के लिए की गई तैयारियों की विस्तार से समीक्षा की। बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी एस प्रिया मिश्रा तथा सीईओ जिला पंचायत अमनवीर सिंह द्वारा निर्वाचन के संबंध में की गई तैयारियों से अवगत कराया गया। केन्द्रीय प्रेक्षकों ने स्वतंत्र, निष्पक्ष तथा सुगमतापूर्वक चुनाव सम्पन्न कराने के लिए समय से पहले सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन करने के लिए कहा। प्रेक्षकों ने जिले में स्वीप प्लान के तहत चल रही मतदाता जागरूकता गतिविधियों की सराहना भी की। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी एस प्रिया मिश्रा तथा सीईओ जिला पंचायत अमनवीर सिंह बैस ने विधानसभा निर्वाचन-2018 के लिए जिले में की गई तैयारियोंं का पावर प्वाइंट के माध्यम से प्रजेन्टेशन दिया। उन्होंने बताया कि जिले के सभी मतदान केन्द्रों तथा सार्वजनिक स्थलों पर ईवीएम तथा वीवीपैट का प्रदर्शन कर मतदाताओ को मतदान करने की प्रक्रिया की जानकारी दी जा रही है। इसके साथ जिले में मतदान का प्रतिशत बढ़ाने के लिए सार्वजनिक स्थलों पर होर्डिग्स के माध्यम से मतदान का संदेश, दीवार लेखन, पेटिंग, मानव श्रृंखला, जागरूकता रैली, साईकिल रैली, कलश यात्रा, पिंक सप्ताह के तहत मेहंदी, चित्रकला, रंगोली, रैली, कलश यात्रा आदि के माध्यम से लगातार मतदाता जागरूकता का संदेश दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचन कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही आदर्श आचरण संहिता जिले में लागू हो गई है। जिले में आदर्श आचरण संहिता का पालन सुनिश्चित कराने के लिए फ्लाईंग स्काट, वीएसटी, एसएसटी दलो, पेड न्यूज की मॉनीटरिंग के लिए एमसीएमसी का गठन किया गया है तथा निर्वाचन संबंधी शिकायतों एवं जानकारी के लिए कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है। इसके साथ ही जिले में संपत्ति विरूपण अधिनियम के तहत लगातार कार्यवाही सुनिश्चित कराई गई है। राजनैतिक दलों की बैठकों का आयोजन कर निर्वाचन आयोग के नियमों एवं निर्देशों से अवगत कराया गया है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिले में लगातार निर्वाचन कार्य में संलग्न विभिन्न दलों तथा मतदान दलों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। क्रिटिकल एवं बर्नरेबल मतदान केन्द्रों की पहचान कर चुनावी पाठशालाओं का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सेक्टरवार कम्युनिकेशन प्लान तैयार किया गया है तथा दलों को प्रशिक्षित भी किया जा चुका है। पुलिस अधीक्षक जगत सिंह राजपूत ने जिले में स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं पारदर्शी निर्वाचन संपन्न कराने के लिए की जा रही प्रतिबंधात्मक कार्यवाही से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि जिले में लाइसेंसी शस्त्रों को थानो में जमा कराया जा चुका है। आबकारी एक्ट के तहत अवैध शराब विक्रय या परिवहन पर लगातार कार्रवाई की जा रही है। बैठक में अपर कलेक्टर नारायण प्रताप यादव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एपी सिंह, चारों विधानसभाओं के रिटर्निंग एवं सहायक अधिकारी तथा नोडल अधिकारी उपस्थित थे। प्रेक्षकों ने किया स्ट्रांग रूम तथा पुलिस कंट्रोल रूम का निरीक्षण केन्द्रीय प्रेक्षकों ने शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज रायसेन में बनाए गए स्ट्रांग रूम का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कलेक्टर एस प्रिया मिश्रा तथा एसपी जगत सिंह राजपूत से सुरक्षा सहित अन्य व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी ली। इसके पश्चात प्रेक्षकों ने कोतवाली में बनाए गए सीसीटीवी कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। यहां सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से शहर की गतिविधियों का जायजा लिया। मतदाताओं को दी ईवीएम तथा वीवीपैट की जानकारी वहीं, कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी एस प्रिया मिश्रा के निर्देशानुसार जिले के सभी नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में मतदाताओं के समक्ष ईवीएम तथा वीवीपैट का प्रदर्शन किया जा रहा है और मतदान करने की प्रक्रिया की जानकारी दी जा रही है। सांची जनपद के ग्राम मेहगांव, बर्रूखार तथा वनगवां में बीआरसीसी एसएस पोर्ते द्वारा ईवीएम तथा वीवीपैट का प्रदर्शन किया गया। ईवीएम तथा वीवीपैट प्रदर्शन के दौरान मतदाताओं को जानकारी दी गई कि इस बार विधानसभा चुनाव में मतदान के दौरान ईवीएम के साथ वीवीपैट मशीन भी रहेगी। ईवीएम का बटन दबाने के बाद मतदाता को वीवीपैट मशीन में सात सेकेण्ड के लिए पर्ची दिखाई देगी। जिसे देखकर मतदाता यह सुनिश्चित कर पाएंगे कि उन्होंने जिस अभ्यर्थी का बटन दबाया है वोट उसी को मिला है। हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश
image