Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 23:47 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

संताल परगना को सुखाड़ घोषित करने को लेकर कांग्रेसियों ने निकाली जनक्रोश रैली

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 10 2018 7:29PM
संताल परगना को सुखाड़ घोषित करने को लेकर कांग्रेसियों ने निकाली जनक्रोश रैली
दुमका,10 नवम्बर(हि.स.)। संथाल परगना प्रमंडल को सुखाड़ घोषित करने के लिए कांग्रेस पार्टी शनिवार को जरमुंडी प्रखंड में जनाक्रोश रैली निकाली। जनाक्रोश रैली सह प्रखंड कार्यालय घेराव कार्यक्रम कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष श्यामसुंदर मोदी के नेतृत्व में हुई। रैली कर बीडीओ के माध्यम से 12 सूत्री मांग पत्र राज्यपाल के नाम सौंपा गया। जनाक्रोश रैली नगर भवन, जरमुंडी से प्रारंभ होकर प्रखंड कार्यालय जरमुंडी के परिसर पहुंच विशाल जनसभा में तब्दील हो गई। जनसभा को संबोधित करते हुए पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डॉ आलमगीर आलम ने मौजूदा केंद्र और राज्य की सरकारों को जनविरोधी एवं किसान विरोधी बताया। उन्होंने आने वाले चुनाव में जनता से उखाड़ फेंकने की अपील की। आलमगीर आलम ने भाजपा सरकार को झूठे वादों के सहारे चलने वाली सरकार बताया। उन्होंने कहा कि पूरे राज्य में सुखाड़ की समस्या विकराल स्थिति कायम कर दी है। केंद्र एवं राज्य की सरकार सुखाड़ को लेकर अनसुनी बनी हुई है। उन्होंने कहा कि ऐसी निकम्मी सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई हक नहीं है। केंद्र सरकार पर चुटकी लेते हुए आलमगीर आलम ने कहा कि राम के भरोसे सत्ता की चौखट पर आयी, यह सरकार खोखले विकास के नाम पर पूरे देश में लूट मचाई हुई है। अनावृष्टि के कारण संथाल परगना के किसान सुखाड़ जैसी भयावह स्थिति का सामना कर रहे हैं। लेकिन सरकार कान में तेल डालकर सोयी है। किसानों का दर्द बयां करते हुए आलम ने रवि फसल के लिए मुफ्त बीज खाद और बिजली की व्यवस्था अविलंब मुहैया कराने को कहा। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष और वर्तमान मौसम की फसल बीमा की राशि के साथ नुकसान हुए फसलों की क्षतिपूर्ति राशि अविलंब भुगतान करने की मांग की। मीडिया प्रभारी राजेश ठाकुर ने भाजपा सरकार को आम जनता का प्रतिनिधित्व करने वाला सरकार नहीं, बल्कि उद्योगपतियों एवं पूंजीपतियों की सरकार बतलाया। उन्होंने नोटबंदी के निर्णय को गलत ठहराते हुए भारतीय अर्थव्यवस्था के इतिहास का सबसे बड़ा त्रासदी बताया। उन्होंने कहा कि काला धन वापस लाने और प्रत्येक भारतीयों के खाते में 15 लाख रुपया जमा कराने के वादे केवल जुमेल्लेबाजी साबित हुई है। उपस्थित कांग्रेसियों ने भाजपा सरकार को जमकर कोसा। हिन्दुस्थान समाचार/नीरज/वंदना
image