Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अक्तूबर 21, 2018 | समय 10:59 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

पूजा में मत्स्य विभाग परोसेगा जमींदार घराने में बनने वाली लजीज मछलियां

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 13 2018 9:48PM
पूजा में मत्स्य विभाग परोसेगा जमींदार घराने में बनने वाली लजीज मछलियां
कोलकाता, 13 अक्टूबर (हि.स.)।‌ हर साल की तरह इस साल भी राज्य मत्स्य पालन विभाग की ओर से राजधानी कोलकाता में दुर्गा पूजा घूमने पहुंचे लोगों के लिए जमींदार घराने में बनाई जाने वाली लजीज स्वाद वाली मछलियों के अलग-अलग डिश परोसे जाएंगे। शनिवार को मत्स्य पालन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि विभाग का अपना पांच रेस्तरां है जो नलबन फूड पार्क, राज्य सचिवालय नवान्न, इको पार्क, विधान शिशु उद्यान उल्टाडांगा में और निक्को पार्क के ठीक सामने स्थित है। यहां इस साल मछली खाने के शौकीन लोगों के लिए विभाग ने अलग-अलग प्रयोग कर काफी लजीज डिश तैयार किया है। विशेष तौर पर जमीदारी प्रथा के समय उनके घरों में जिस तरह की मछलियां बनाई जाती थी ठीक उसी तरह से इस साल तैयार मछलियों के डिश परोसे जाएंगे। इसके अलावा राज्य भर के कई ऐसे मंदिर है जहां विशेष तौर पर पूजा के लिए मछलियां बनाकर चढ़ाई जाती हैं। उसी तरह से बनाई गई मछलियां भी परोसी जाएंगी। इसमें जमींदार घराने का हूबहू स्वाद लाने के लिए मत्स्य पालन विभाग ने शोभा बाजार राजबाड़ी, स्वर्ण राय चौधरी राजबाड़ी और राजधानी के अन्य राजघराने और जमींदार परिवारों से संपर्क कर इस बारे में समझने की कोशिश की है। इसके अलावा बर्दवान के सर्वमंगला मंदिर में विशेष तौर पर चढ़ाई जाने वाली मांगूर मछली डिश को भी इस बार रेस्तरां में परोसा जाएगा। इसी तरह झाड़ग्राम के चिलकागढ़ में कनकदुर्गा को परोसी जाने वाली सोलपाड़ा मछली भी विभाग की ओर से मुहैया कराई जाएगी। एक थाली पर विभाग की ओर से 7% का डिस्काउंट दिया गया है। इसके अलावा पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता के 23 बड़े पूजा पंडालों के पास भी मत्स्य पालन विभाग की ओर से स्टॉल लगाया गया है जहां विभिन्न स्वाद और अलग अलग तरीके से बनाई गई मछली की डिश परोसी जाएगी। इसमें मुख्य रूप से सिंघी पार्क, हाजरा पार्क, कालीघाट मिलन संघ, हिंदुस्तान पार्क, जगत मुखर्जी पार्क, शोभा बाजार, टाला सार्वजनिक पूजा और नलिनी सरकार स्ट्रीट में आयोजित होने वाली दुर्गा पूजा पंडालों के पास विभाग की ओर से स्टाल लगाए गए हैं। हिन्दुस्थान‌ समाचार/ ओम प्रकाश/मधुप
image