Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अक्तूबर 21, 2018 | समय 09:53 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

सामाजिक समरसता कार्यक्रम रविवार को

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 13 2018 9:09PM
सामाजिक समरसता कार्यक्रम रविवार को
जोधपुर, 13 अक्टूबर (हि.स.)। राजनैतिक हितों को साधने के लिए राजनैतिक पार्टियों की ओर से फैलायी जा रही सामाजिक वैमनस्यता के कारण समाज में बढ़ रहे तनाव को कम करने के लिए चेतना वाहिनी जोधपुर की ओर से पाल गांव के पशु मेला मैदान में रविवार 14 अक्टूबर को सामाजिक समरसता कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इस महासम्मेलन में जिले भर से पच्चीस हजार से ज्यादों लोगों के शामिल होने की संभावना है। चेतना वाहिनी के कार्यकर्ता और स्वयसेवक इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए और आमंत्रण देने के लिए आसपास के गांवों में डेढ़ माह से घूम रहे है। चेतना वाहिनी जोधपुर के संयोजक विरेन्द्र प्रतापसिंह पाल ने बताया कि इस कार्यक्रम को मारवाड़ से जुड़े संत गणों तारातरा मठ के महंत प्रतापपुरी, कनाना मठ के परशुराम गिरी महाराज, जाजीवाल धोरा के संत स्वामी भागीरथदास आचार्य, युवा क्रांतिकारी संत रामविचार महाराज, हरजी भाटी पंडित की ढाणी ओसिया के संत रूपदास महाराज, गादीपति पंडितजी की ढाणी मठ संत करणदास महाराज, दुधेश्वर मठ गाजियाबाद के महंत नारायणगिरी महाराज, बड़ा रामद्वारा सूरसागर के परमहंस महंत रामप्रसाद महाराज, ललिता आश्रम की साध्वी प्रीति प्रियवंदा, महंत मडवारिया सिरोही के महंत संत 1तीर्थगिरी महाराज, रामनाम आश्रम पोपावास के संत जगदीश महाराज, धन्ना भगत मंदिर बोरानाडा के संत अणदाराम महाराज के साथ धुंधाडा के भोपा मदनसिंह मौजूद रहेंगे। उन्होंने बताया कि चेतना वाहिनी जोधपुर की ओर से आयोजित इस समरसता सम्मेलन की खासियत यह होगी कि कार्यक्रम के दौरान सभी समाज के संत और युवा एक ही मंच और एक ही पंडाल में एक साथ बैठकर समाज को आगे बढ़ाने के लिए विचार विमर्श करेंगे। इसके साथ बाद नवरात्रि के दौरान विराजित मां दुर्गा का प्रसाद भी एक ही जाजम पर बैठकर ग्रहण करेंगे। समारोह को सफल बनाने के लिए मेला मैदान में विशाल पांडाल बनाया गया है और इसमें भोजन और कार्यक्रम के लिए अलग अलग पांडाल बनाने के साथ चेतना वाहिनी से जुड़े कार्यकर्ताओं को अलग-अलग दायित्व सौंपे गए है। स्थापना के दिन से शुरू हुए चेतना वाहिनी के कार्यक्रमों के दौरान शनिवार शाम को पशु मेला मैदान पाल में आयोजित मां दुर्गा के पांडाल में सभी जातियों की 51 कन्याओं का सामूहिक पूजन का कार्यक्रम भी आयोजित किया गया जिसमें गांव के सभी समाज के जोड़ों ने मां स्वरूपी इन कन्याओं की पूजा अर्चना की। हिन्दुस्थान समाचार/ सतीश/संदीप
image