Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, सितम्बर 26, 2018 | समय 12:31 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

जेईई-मेन व यूजीसी-नेट के लिए कोटा में खुला टेस्ट प्रेक्टिस सेंटर

By HindusthanSamachar | Publish Date: Sep 16 2018 8:43PM
जेईई-मेन व यूजीसी-नेट के लिए कोटा में खुला टेस्ट प्रेक्टिस सेंटर
कोटा,16 सितम्बर (हि.स.)। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने रविवार को नईदिल्ली से विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जेईई-मेन एवं यूजीसी-नेट परीक्षाओं के लिए एजुकेशन सिटी कोटा में ऑनलाइन टेस्ट प्रेक्टिस सेंटर का विधिवत शुभारंभ किया। श्रीनाथपुरम स्थित लारेंस एंड मेयो पब्लिक स्कूल में एनटीए द्वारा अधिकृत टेस्ट प्रेक्टिस सेंटर (टीपीसी) शुरू किया गया है, जहां एनटीए से विभिन्न परीक्षाओं में ऑनलाइन पंजीकृत होने वाले हजारों विद्यार्थी मॉक टेस्ट दे सकेंगे। स्कूल निदेशक ई.प्रदीपसिंह गौड ने बताया कि इस मौके पर एमएचआरडी में उच्च शिक्षा सचिव आर.सुब्रह्मयम, अतिरिक्त सचिव एस.एस.संधू एवं नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के डायरेक्टर जनरल विनीत जोशी उपस्थित रहे। एनटीए द्वारा 8 सितम्बर,2018 से देश के सभी राज्यों में रिमोट व ग्रामीण विद्यार्थियों को केवल कम्प्यूटर बेस्ट टेस्ट मोड में होने वाली परीक्षाओं की ऑनलाइन प्रेक्टिस करवाने के उद्देश्य से विभिन्न शहरों में करीब 3500 टीपीसी खोले जा रहे हैं। याद दिला दें कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) द्वारा ऑनलाइन जेईई-मेन,2019 पहले चरण में 6 से 20 जनवरी तक एवं यूजीसी-नेट सीबीटी परीक्षा 9 से 23 दिसम्बर तक आयोजित की जाएगी। दोनो परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 सितंबर है। ऐसे चुनें टेस्ट प्रेक्टिस सेंटर परीक्षार्थी एनटीए वेबसाइट से मॉक टेस्ट के लिए ऑनलाइन पंजीयन करवा सकते हैं अथवा प्ले स्टोर से एनटीए स्टूडेंट एप डाउनलोड कर अपना पंजीयन करवा लें। परीक्षार्थी अपने नजदीकी क्षेत्रों में प्राथमिकता के आधार पर 5 टीपीसी चुन सकते हैं। इनमें प्रतिमाह 12 सेशन होंगे, उनमें से किसी एक सेशन को प्रेक्टिस टेस्ट देने के लिए सलेक्ट करें। परीक्षार्थी पंजीयन मे अपना पता, ई-मेल एवं मोबाइल नंबर अवश्य भरें, जिससे एसएमएस द्वारा उसे संबंधित सेंटर पर प्रवेश दिया जा सकेगा। एनटीए ने स्पष्ट किया कि टीपीसी पर परीक्षार्थियों को निःशुल्क प्रेक्टिस करने व मॉक टेस्ट देने की सुविधा मिलेगी, इसके लिए उन्हें कोई शुल्क नहीं देना होगा। हिंदुस्थान समाचार/अरविंद/ ईश्वर
image