Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, सितम्बर 26, 2018 | समय 12:12 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

बाल संरक्षण एवं सामाजिक सहभागिता पर कार्यशाला

By HindusthanSamachar | Publish Date: Sep 16 2018 8:34PM
बाल संरक्षण एवं सामाजिक सहभागिता पर कार्यशाला
कटिहार, 16 सितम्बर (हि.स.)। बाल संरक्षण एवं सामाजिक सहभागिता विषय को लेकर रविवार को अभिलाषा परिवार स्वयंसेवी संस्था कटिहार के द्वारा बालसखा पटना तथा क्राई कोलकाता के सौजन्य से जिला बाल संरक्षण इकाई कटिहार के सभागार में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर अभिलाषा परिवार स्वयंसेवी संस्था के सचिव राजेश कुमार सिंह ने कहा कि आज के परिवेश में सामाजिक स्तर पर संयुक्त रुप से बच्चों का संरक्षण करना अति आवश्यक हो गया है। उन्होंने किशोर न्याय बोर्ड ,बाल कल्याण समिति, बाल संरक्षण समिति, धावा दल, जिला बाल संरक्षण इकाई सहित बच्चों के हित एवं कल्याण के लिए विभिन्न सरकारी अधिनियम एवं कानूनों की जानकारी उपस्थित लोगों को उपलब्ध कड़ाई उन्होंने अभिलाषा परिवार द्वारा बाल संरक्षण के क्षेत्र मे किए गए कार्यो पर भी विस्तृत रूप से प्रकाश डाला। बालसखा पटना के समन्वयक महेश कुमार ने इस कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि पूरे राज्य में मात्र 16 जिलों में वर्तमान में बाल कल्याण समिति कार्यरत है तथा शेष 22 जिलों को इसी से जोड़ दिया गया है जो एक बड़ी समस्या है और ऐसी स्थिति में देखरेख संरक्षण एवं जरूरतमंद बालकों का सही निपटारा समय पर होना मुश्किल प्रतीत होता है उन्होंने इसके लिए संयुक्त रुप से सरकार पर दबाव बनाने की बात कही | इस अवसर पर किशोर न्याय बोर्ड के पूर्व सदस्य रिंकू दत्ता ने कहा कि बच्चों के हित में कार्य करने की शुरुआत अपने-अपने घरों और समाज से करने की जरूरत है तथा बच्चों को वास्तविक काउंसलिंग की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए तो कानून की गिरफ्त में फंसे बच्चों या फिर भूले भटके, बेसहारा ,आश्रय हीन बच्चों को प्रारंभिक स्तर पर सुधारा जा सकता है एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप से बचते हुए विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों को एक साथ मिलकर कार्य करने की जरूरत है। हिन्दुस्थान समाचार/विनोद/शंकर
image