Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, सितम्बर 25, 2018 | समय 14:14 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

अवैध क्रेशर पर कार्रवाई, 400 डम्फर गिट्टी, दो चलित क्रेशर मशीन जब्‍त

By HindusthanSamachar | Publish Date: Sep 16 2018 8:26PM
अवैध क्रेशर पर कार्रवाई, 400 डम्फर गिट्टी, दो चलित क्रेशर मशीन जब्‍त
शिवपुरी, 16 सितम्‍बर (हि.स.)। जिले के नरवर थाना क्षेत्र में पिछले लंबे समय से अवैध रुप से चल रही गिट्टी क्रेशर पर रविवार को पुलिस प्रशासन के दल ने संयुक्त रुप से कार्रवाई करते हुए यहां से करोड़ों रुपये गिट्टी और मशीनरी जब्‍त कर कार्रवाई संस्थित की है। पुलिस प्रशासन की टीम द्वारा रविवार को गई इस कार्रवाई से अवैध रुप से क्रेशरों का संचालन करने वाले माफियाओं में हंड़कंप पूर्ण स्थिति निर्मित हो गई है। जानकारी के अनुसार डीएम शिल्पा गुप्ता एवं पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर को पिछले कुछ समय से सूचनाऐं प्राप्त हो रही थीं कि नरवर के ग्राम नानकपुर में पिछले लंबे समय से अवैध रुप से गिट्टी की के्रशर का संचालन किया जा रहा है। इन सूचनाओं को गंभीरता लेते हुए एसपी और कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारी करैरा उदय सिंह सिकरवार एवं एसडीओपी रत्नेश सिंह तोमर के नेतृत्व में दल का गठन कर बताए गए स्थान पर कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए। आला अधिकारियों द्वारा दिए गए निर्देशों के पालन में रविवार को दोपहर के समय एसडीएम एवं एसडीओपी ने बताए गए स्थान पर छापामार कार्रवाई करते हुए यहां से लगभग 400 डम्फर गिट्टी,दो चलित क्रेशर मशीन के अलावा अन्य मशीनरी जप्त की है। पुलिस प्रशासन द्वारा की गई इस संयुक्त कार्रवाई के दौरान टीमों को मौके पर आया देख के्रशर पर मौजूद कर्मचारी सहित अन्य लोग मौके से भाग निकलने में सफल रहे है। की गई कार्रवाई में क्रेशर से जप्त गिट्टी एवं मशीनरी की कीमत लगभग 5 करोड़ रुपये से बताई जा रही है। पत्थर खोदकर कर कमा रहे थे करोड़ों रुपए जिस स्थान पर यह गिट्टी की क्रेशर संचालित की जा रही थी। उस स्थान के चारों तरफ बड़े-बड़े गहरे गड्डे मिले है। बताया जाता है कि क्रेशर संचालक द्वारा अवैध तरीके से मशीनों के माध्यम से पत्थर निकालकर इसकी गिट्टी बनाकर लाखों-करोड़ों रुपये के बारे-न्यारे करते हुए शासन की गुल्लक को चूना लगाया जा रहा था। जिस नरवर क्षेत्र के ग्राम नानकपुर में इस अवैध क्रेशर का संचालन किया जा रहा था। उसके चौतरफा से पत्थर खोदा गया है। यहां से खोदे गए पत्थर का अगर आकलन किया जाये तो यह राशि करोड़ों रुपये में पहुंचती है। बामौर में बड़े पैमाने पर संचालित है अवैध क्रेशरों करैरा अनुविभाग के अलावा अगर अवैध क्रेशरों पर गौर किया जाए तो कोलारस के बामौर में एक दो नहीं बल्कि कई अवैध गिट्टी के्रशरों का संचालन किया जा रहा है। यहां पर सभी नियमों को ताक पर रखकर क्रेशर संचालित होती दिखाई दे रही है। यहां पर क्रेशरों से होने वाले प्रदूषण के कारण ग्रामवासी गंभीर बीमारियों का शिकार होते दिखाई दे रहे है। ऐसा नहीं कि ग्रामीणों द्वारा इस मामले की शिकायत पुलिस प्रशासन से न की गई हो। यह पूरा मामला पुलिस प्रशासन की जानकारी में होने के बाद भी यहां कार्रवाई नहीं की जा रही है। सूत्र बताते है कि बामौर में संचालित अधिकांश क्रेशरे सत्ताधारी दल के नेताओं की है और इन नेताओं के रसूख के चलते यहां पर आज तक कोई प्रभावी कार्रवाई नहीं सकी है। इनका कहना है मिल रही शिकायतों के चलते वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देशन में क्रेशर पर कार्रवाई की गई है। यहां से लगभग 400 डम्फर गिट्टी के साथ अन्य मशीनरी भी जप्त की गई है। मामले में आगामी कार्रवाई की जा रही है। उदय सिंह सिकरवार एसडीएम करैरा हिन्दुस्थान समाचार / रंजीत /राजू
image