Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, नवम्बर 19, 2018 | समय 06:15 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

प्रधानमंत्री का पूर्वांचल दौरा मिशन 2019 में बनेगा अहम पड़ाव, सपा-बसपा में बढ़ी बेचैनी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jul 14 2018 11:52AM
प्रधानमंत्री का पूर्वांचल दौरा मिशन 2019 में बनेगा अहम पड़ाव, सपा-बसपा में बढ़ी बेचैनी
वाराणसी, 14 जुलाई (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का शनिवार से शुरू पूर्वांचल का दौरा बेहद खास है। यूपी में मगहर से शुरू प्रधानमंत्री का दौरा तमसा के पावन तट पर स्थित आजमगढ़ और बाबा विश्वनाथ और मां गंगा की धरती वाराणसी में मिशन 2019 के सियासी महासमर में निर्णायक भूमिका में होगा। सत्ता के शीर्ष पायदान में पूर्वांचल का महत्व समझ प्रधानमंत्री बखुबी समझते हैं। प्रधानमंत्री आजमगढ़ में पूर्वांचल एक्सप्रेस—वे का शिलान्यास करके पूरे पूर्वांचल पर अपने विकास कार्यों की लकीर खींच सपा और बसपा को उसके गढ़ में सीधी चुनौती देंगे। पूर्वांचल की यह धरा मुलायम सिंह यादव का मजबुत गढ़ माना जाता है, लेकिन इस बार भाजपा प्रधानमंत्री के अगुवाई में इस किले को ढहाने की पुरजोर कोशिश करेगीं। अब जबकि सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने मुलायम सिंह यादव को मैनपुरी से चुनाव लड़ाने की घोषणा कर दी है। भाजपा हर हाल में इस सीट को जीतने की पुरजोर कोशिश करेगी। मौका भी हैं और दस्तूर भी कि भाजपा इस अवसर को लपक लें। अभी तक लोकसभा चुनाव रहा हो या विधानसभा चुनाव, आजमगढ़ जीतना भाजपा के लिए ट़ेड़ी खीर रहा है। पिछली लोकसभा में मोदी लहर के बावजूद सपा अपना सीट बचाने में कामयाब रही। केवल 2009 में ही भाजपा की ओर से रमाकांत यादव जीते थे। विधानसभा में 1991 की राम लहर हो या फिर 2017 की मोदी लहर, भाजपा इस जिले की 10 सीटों में से केवल एक ही सीट जीत पाई है। बाकी सभी सीटों पर सपा और बसपा ने जीत हासिल की। वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में तो भाजपा यहां अपना खाता भी नहीं खोल पाई थी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी यहां जनसभा में राजनीति का हर हरबा हथियार प्रयोग कर आजमगढ़ में भाजपा के लिए उर्वरा जमीन तैयार करेंगे। सभा में पीएम स्वच्छ भारत अभियान और इज्जत घरों से गांवों की बेहतरी और हाल में बढ़ाए गए फसलों समर्थन मूल्य के साथ-साथ विकास कार्यों पर फोकस कर पिछड़ों, अति पिछड़ों, दलितों और अल्पसंख्यकों को भरपुर रिझायेंगे। आजमगढ में 340 किलोमीटर लम्बे पूर्वाचल एक्सप्रेस वे की आधारशिला रख प्रधानमंत्री पूर्वांचल फतह की अपनी रणनीति को अश्वमेध रथ में बदल देंगे। इसके पूर्व प्रधानमंत्री ने मगहर से बड़ी जनसभा को संबोधित कर संतकबीर के बहाने सपा-बसपा पर निशाना साधा था। मोदी के यूपी दौरे विशेष रूप से पूर्वांचल दौरे को लेकर सपा व बसपा नेताओं में खासा ​बेचैनी देखने को मिल रहा है। मोदी के आज होने वाले दौरे को लेकर सपा मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव प्रेस वार्ता के जरिये निशाना साधने की तैयारी में हैं, तो वहीं बसपा सुप्रीमो मायावती का प्रेस विज्ञप्ति तैयार है। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/राजेश
image