Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, सितम्बर 26, 2018 | समय 14:53 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

13 लाख 91 हजार पेड़ लगाकर चन्दौली को किया जायेगा हरियाली से सुदृढ़ -डीएफओ

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jul 14 2018 11:34AM
13 लाख 91 हजार पेड़ लगाकर चन्दौली को किया जायेगा हरियाली से सुदृढ़ -डीएफओ
चंदौली, 14 जुलाई (हि.स) दिनों दिन बढ़ते कंक्रीट के जंगल व पर्यावरण के बिगड़ते पारिस्थितिकी तंत्र को लेकर सचेत हुए सरकार ने इस समस्या से निपटने के लिए वृक्षारोपण करने का महाअभियान चलाने का निर्णय लिया है। जिसके तहत वन विभाग के देखरेख में पूरे उत्तर प्रदेश में आगामी 15 अगस्त को एक दिन में 5 करोड़ 32 लाख 96 हजार पेड़ लगाये जाने का संकल्प लिया गया है। इसी क्रम में जनपद चंदौली वन विभाग की टीम द्वारा स्वतंत्रता दिवस वाले दिन लगभग 7 लाख 42 हजार कीमती तथा छायादार वृक्षों का रोपण किया गया जायेगा। जिससे कि जनपद की वन सम्पदाओं में और भी सृदृढ़ता आ सकें। बता दें कि इस कार्य में अन्य विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों का भी सहयोग लिया जायेगा। मानव समाज जितनी तेजी से विकास की रास्ते पर निकल पड़ा है, उतनी ही तेजी से वह प्राकृतिक संपदाओं का दोहन भी करता जा रहा है, आलम यह है कि अपने निजी स्वार्थ के आगे मनुष्य अपने आने वाले कल को विनाश की तरफ ढकेलता जा रहा है, समय-समय पर आने वाले विभिन्न सर्वेक्षण इन समस्याओं से अवगत कराते रहे हैं। बीते कुछ दिनों से जगह-जगह पर प्रकृति के प्रकोप इसी बिगड़ते जलवायु तंत्र का नतीजा है।इन सभी समस्याओं को लेकर गंभीर सरकार द्वारा उठाया गया यह कदम काफी सकारात्मक है। पर्यावरण के बिगड़ते संतुलन को संभालने के लिए इस वर्ष सरकार द्वारा पूरे प्रदेश में 9 करोड़ 13 लाख तथा जनपद में 13 लाख 51 हजार पेड़ों का रोपण किये जाने का लक्ष्य है, जिससे कि आने वाले कल की समस्याओं से निपटारा हो सकें। इस महाअभियान के तहत जनपद में तैयारियां शुरू हो चुकी है,इस संबंध में डीएफओ मनोज खरे ने बताया कि बैठकों और अन्य माध्यमों से इस विशेष अभियान को सफल करने की दिशा में कदम बढ़ाया जा चुका है, वहीं वन क्षेत्रों में गढ्ढा खोदने, सुरक्षा खाई बनाने तथा अन्य कार्य परवान चढ़ चुके है। बताया कि इस अभियान के तहत जनपद में इस वर्ष 13 लाख 51 हजार पेड़ लगाये जायेगें, वहीं 15 अगस्त को 7 लाख 51 हजार पौधों का रोपण किया जायेगा। जिसमें सागौन, शीशम, चिलबिल, पाकड़, बरगद, जामुन व नीम जैसे छायादार व कीमती पेड़ होगें। कहा कि इस अभियान को सफल करने के लिए अन्य विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की भी सहायता ली जायेगी।। हिन्दुस्थान समाचार/जयप्रकाश/श्रीधर/राजेश
image