Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, सितम्बर 26, 2018 | समय 14:49 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

सरकार के पॉलीथिन बंद कराने के फैसले को सफल बनाने में जुटा प्रशासन

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jul 13 2018 11:18PM
सरकार के पॉलीथिन बंद कराने के फैसले को सफल बनाने में जुटा प्रशासन
चित्रकूट,13 जुलाई (हि.स.)।सरकार द्वारा 15 जुलाई से पॉलीथिन पर पूर्ण रूप से प्रतिबन्ध लगाये जाने की घोषणा को अमली जामा पहनाने में चित्रकूट जिला प्रशासन पूरी तन्मयता से जुट गया है। पर्यावरण संरक्ष्ण को दृष्टिगत रखते हुए शासन द्वारा लिए गये फैसले को धरातल पर सफल बनाने के लिए जिलाधिकारी विशाख जी ने जिले के सभी विद्यालयों,समाजसेवी संगठनों और व्यापर मंडल से सहयोग माँगा है। बढ़ते प्रदुषण और पर्यावरण असंतुलन को दृष्टिगत रखते हुए सरकार द्वारा 15 जुलाई से उत्तर प्रदेश में पॉलीथिन पर पूर्ण रूप से प्रतिबन्ध लगाने का फैसला लिया है। सरकार के इस फैसले को चुनौती की तरह लेते हुए चित्रकूट के जिलाधिकारी विशाख जी शासन के इस निर्णय को धरातल पर प्रभावी तरीके से लागू करने में जुट गये है। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए शुक्रवार को जिलाधिकारी विशाख जी ने कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में इंटर कालेज के प्रधानाचार्यो के साथ बैठक कर धर्म नगरी चित्रकूट को पाॅलीथीन से मुक्त कराने में सहयोग करने का आह्वान किया। जिलाधिकारी ने प्रधानाचार्यो से कहा कि 15 जुलाई से सरकार द्वारा पाॅलीथीन पर पूर्णतया प्रतिबंध लगा दिया गया है। उन्होंने कहा कि सबसे पहले स्कूल व सरकारी कार्यालयों से शुरुआत की जायेगी। इसके बाद 16 से 19 जुलाई तक जागरुकता अभियान चलाया जायेगा। साथ ही विद्यालयों में बच्चों के माध्यम से 19 से 26 जुलाई तक बच्चों के द्वारा घरों से प्लास्टिक के जो भी चीज है उन्हें इकठ्ठा कर विद्यालयों में जमा करेगें। इसके बाद नगर पालिका द्वारा विद्यालयों से 27 जुलाई को वह पूरा प्लास्टिक का कचरा भरवा कर उसे नस्ट कराया जायेगा। उन्होंने प्रधानाचार्यो से कहा कि इसमें जो बच्चा व विद्यालय अच्छा कार्य करेगा उसे पुरुस्कृत किया जायेगा। जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश दिये कि इसके लिये अलग-अलग विद्यालयों पर जिला स्तरीय अधिकारियों की टीम लगायी जाये ताकि वह मौके पर जाकर देखें कि कौन से विद्यालय ने अच्छा कार्य किया है। 16 से 19 जुलाई तक प्रत्येक विद्यालयोे में बैठक भी आयोजित करायी जायेगी। उसमें बच्चों के मध्य 23 जुलाई को पेंटिंग प्रतियोगिता व 24 जुलाई को निबंध प्रतियोगिता का आयोजन भी किया जाये । सभी विद्यालयों के बच्चों को एक शपथ पत्र दिया जाये, ताकि वह पूरे परिवार के सदस्यो से हस्ताक्षर करा कर लायेंगे कि हम पूर्ण रुप से प्लास्टिक नहीं अपनायेंगे। बच्चों को एक-एक कपड़े के बैग दिये जायें जो घर में प्रतिबंधित समान है उसे इकठ्ठा कर विद्यालय में जमा करेंगे। इस कार्य में अधिक से अधिक संख्या में भाग लें। बच्चों के लंच बाक्स को भी देखा जाय वह प्लास्टिक में लपेट कर भोजन लाते हैं। जन जागरुकता के लिये प्रभात फेरी करायी जाये। उन्होंने कहा कि कर्वी शहर के 25 वार्डो में अपने-अपने क्षेत्र पर जन जागरुकता अभियान का कार्य करायें उसमें बाॅल पेटिंग, स्लोगन आदि के माध्यम से भी प्रचार प्रसार करा सकते हैं। शहर में स्वच्छता एवं प्लास्टिक मुक्ति अभियान का कार्यक्रम कराया जाये ,ताकि लोग जागरुक होकर पूर्णतया शहर को प्लास्टिक से मुक्त करा सकें।इसके अलावा इस अभियान में जिले के समाजसेवी संगठनो,व्यापारी संगठनों आदि से भी अभियान को सफल बनाने में सहयोग लिया जायेगा। इस बैठक में अपर जिलाधिकारी विजय नारायण पाण्डेय, जिला विद्यालय निरीक्षक बलिराजराम, प्रधानाचार्य चित्रकूट इंटर कालेज कर्वी रणवीर सिंह चैहान, जन सेवा इंटर कालेज सीताराम, ज्ञान भारती छोटेलाल, जेपी इंटर कालेज जे.पी. मिश्रा, राजकीय बालिका इंटर कालेज कर्वी श्रीमती पुष्पा वर्मा, सीपी सिंह आवासीय इंटर कालेज दिनेश कुमार सिंह, जेएम पब्लिक इंटर कालेज अनूप श्रीवास्तव, जेएम बालिका इंटर कालेज रामदीन वर्मा सहित तमाम विद्यालयों के प्रधानाचार्य मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार /रतन
image