Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, नवम्बर 19, 2018 | समय 06:00 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

कांग्रेसियों ने जिलाधिकारी से मिल मजदूरों की गिनाई समस्याएं

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jul 13 2018 11:11PM
कांग्रेसियों ने जिलाधिकारी से मिल मजदूरों की गिनाई समस्याएं
कानपुर, 13 जुलाई (हि.स.)। कपड़ा मंत्रालय के अधीन बीआईसी की लाल इमली को बंद करने का निर्णय दुर्भाग्यपूर्ण है। क्योंकि यहां पर बने ऊनी कपड़े अपनी अच्छी गुणवत्ता (क्वालिटी) के चलते विश्व में प्रख्यात है। साथ ही यहां के बने कपड़े समाज के सभी वर्ग के लोग आसानी से खरीद सकते हैं। यह बात कांग्रेस पार्टी ने जिलाधिकारी से मुलाकात कर मिल चलाने की मांग करते हुए कही। महानगर कांग्रेस कमेटी के नगर अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री ने शुक्रवार को कार्यकर्ताओं व मिल मजदूरों के साथ जिलाधिकारी से मुलाकात की। नगर अध्यक्ष ने जिलाधिकारी के माध्यम से कपड़ा मंत्रालय को सम्बोधित ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन के माध्यम से कहा कि, लाल इमली के अधिकारियों को वर्तमान में पांचवें वेतन आयोग के अनुसार तनख्वा मिल रही है। जबकि मिल मजदूर के साथ दुर्व्यवहार अपनाते हुए एक भी रुपया नहीं दिया जा रहा है। जबकि यहां के अधिकारियों को एरियर के रूप में वेतन मिल रहा है। दोहरी नीति के चलते मिल मजदूर अवसादग्रस्त है। यही नहीं इसी के चलते ही वह परेशान होकर आत्महत्या करने को मजबूर है। कांग्रेस पार्टी यह मांग करती है। इंटक नेता आशीष पांडेय ने इस मौके पर बताया कि चुन्नीगंज स्थित मिल मजदूरों की कालोनी को प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत लिया गया है। योजना के तहत मजदूरों को ही रिहायशी दामां पर कालोनी उनलब्ध कराने की मांग उन्होंने ज्ञापन देते हुए कही। जिलाधिकारी को ज्ञापन देने वालों में पार्टी नेता सहित दर्जनों मिल मजदूर मौजूद रहें। हिन्दुस्थान समाचार/मोहित
image