Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, सितम्बर 26, 2018 | समय 20:21 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

खिड़की तोड़ भागे हत्या और लूट के 12 बाल अपचारी, छह दस्तयाब

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jul 13 2018 10:11PM
खिड़की तोड़ भागे हत्या और लूट के 12 बाल अपचारी, छह दस्तयाब
भरतपुर, 13 जुलाई (हि.स.)। कई संगीन अपराधों को अंजाम दे चुके 24 में से 12 बाल अपचारी सेवर स्थित राजकीय बाल संप्रेषण गृह से गुरुवार रात करीब 9.30 बजे खिडक़ी तोडक़र भाग गए। घटना के समय गृह में दो केयर टेकर और दो गार्ड मौजूद थे। इनको पता ही नहीं चला कि बच्चे कब भाग गए। घटना के करीब 30 मिनट बाद एक बच्चे ने अंदर से आवाज लगाई तब उनको पता चला और पुलिस व अन्य को सूचना दी गई। हालांकि पुलिस ने शुक्रवार को 12 में से छह बच्चों को दस्तयाब कर लिया है। भागे आरोपियों के खिलाफ विभिन्न पुलिस थानों में लूट, हत्या, दुष्कर्म, चोरी जैसे अपराध दर्ज हैं। पुलिस ने बताया कि बाल संप्रेषण गृह में अन्य दिनों की तरह की गुरुवार रात को टीवी चल रहा था। एक ही कमरे में मौजूद सभी 24 बाल अपचारी टीवी देख रहे थे। तभी उनमें से एक बैरक में बंद 12 बाल अपचारी बैरक के पीछे की साइड में बनी खिडक़ी को तोडक़र भाग गए। घटना के समय 2 गार्ड व 2 केयर टेकर बैरक के बाहर थे। उन्हें करीब आधा घंटे बाद तब पता चला जब दूसरी बैरक के बाल अपचारियों ने आवाज देकर बताया कि यहां पर कोई नहीं हैं। कहां गए सब। ऐसे में गार्ड और केयर टेकर बैरक में पहुंचे और खिडक़ी टूटी देखी तो पूरा माजरा समझ गए। घटना की जानकारी तत्काल संप्रेषण गृह के कार्यवाहक अधीक्षक सत्यवीर सिंह सहित अन्य अधिकारियों व सेवर थाना पुलिस को दी। सहायक पुलिस अधीक्षक ग्रामीण धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि बाल संप्रेषण गृह से भागे 12 बच्चों की तलाश के लिए बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन पर पुलिस जाप्ता लगाया है। पहले भी भागतें बाल अपचारी: बाल संप्रेषण गृह से बाल अपचारियों के भागने की पहली घटना नहीं है। इससे पहले 3 सितंबर 2016 की रात 9 बजे 6 बाल अपचारी दीवार तोडक़र भाग गए थे। इससे भी इससे भी पहले 24 मई 2015 को दोपहर में गार्ड के साथ मारपीट कर 23 बच्चे भाग गए थे। 23 बच्चों के भागने की घटना पुराना किराए के भवन की थी। उधर संबंधित विभाग के अधिकारियों ने मौके पर जाकर देखा तो आंतरिक जांच कराने का तुरंत निर्णय लिया। लेकिन इस प्रकरण में कोई भी अधिकारी कुछ भी बोलने से कतरा रहा है। इधर, बच्चों के भागने के बाद गठित टीमों ने रात को तलाश शुरू कर दी। इसमें कोतवाली थाना पुलिस ने रात 12 बजे एक बच्चे को पकड़ लिया था। शुक्रवार दोपहर तक सूपा थाना रुदावल हाल नीमदागेट मानव भारती स्कूल के पास थाना अटलबन्द, बासनगेट कमला रोड थाना कोतवाली भरतपुर, चितौकरी थाना सेवर, चौक मोहल्ला कस्बा नदबई, बहताना थाना डीग व नगला बोहरा हाल महर्षीनगर कॉलोनी मुरबारा रोड थाना सेवर निवासी बाल अपचारियों को दस्तयाब कर किशोर न्याय बोर्ड एवं बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत कर दुबारा बाल सम्प्रेषण गृह में दाखिल कराया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/ अनुराधा/ ईश्वर
image