Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 13:24 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के 6 आरोपियों को आजीवन कारावास

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jul 13 2018 9:58PM
सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के 6 आरोपियों को आजीवन कारावास
बालाघाट 13 जुलाई (हि.स.)। ग्रामीण थाना अंतर्गत डोंगरबोड़ी में सुबह घर की छपरी में सो रही पीड़िता का मुंह दबाकर पास के खेत में उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर शव को जंगल में फेंकने के 6 आरोपी को बालाघाट न्यायालय के माननीय प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश वाचस्पति मिश्रा की अदालत ने शुक्रवार को आजीवन कारावास और 15 हजार रूपये के अर्थदंड से दंडित करने का फैसला दिया है। न्यायालय में अभियोजन की ओर से जिला अभियोजन अधिकारी के.एल. वर्मा ने पैरवी की थी। 31 अक्टूबर 2016 को ग्रामीण थाना अंतर्गत डोंगरबोड़ी में पीड़िता अपने घर की छपरी में सो रही थी। सुबह लगभग 4 बजे आरोपियों ने उसे बिस्तर से मुंह बांधकर उठाया और पास ही खेत में उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर दी। जिसके बाद पीड़िता के शव को जंगल में फेंक दिया था। जिसकी पति द्वारा गुमशुदगी और हत्या की सूचना पति ने ग्रामीण थाना पुलिस को दी थी। जिसके बाद मामले की विवेचना के दौरान नवेगांव पुलिस ने डोंगरबाड़ी के ही 35 वर्षीय फागुलाल पिता संतु तेकाम, 30 वर्षीय मानसिंह उर्फ छोटु पिता बालचंद इनवाती, 29 वर्षीय कमल तेकाम पिता संतु तेकाम, 30 वर्षीय फाग्या पिता संतु तेकाम, 32 वर्षीय लालसिंह पिता बालचंद इनवाती और 35 वर्षीय हिरदे उर्फ चिपड़ा पिता जंगलु उईके को गिरफ्तार किया था। जिसमें मामले की संपूर्ण विवेचना उपरांत पुलिस ने अभियोग पत्र न्यायालय में पेश किया था। जिसमें चल रही सुनवाई के दौरान अभियोजन की ओर से न्यायालय में 22 गवाह पेश किये गये थे। जिसके बाद अभियोजन द्वारा पेश किये गये साक्ष्य और तर्को के आधार पर माननीय न्यायालय ने आरोपियों को दोषी पाते हुए हत्या मामले में आजीवन कारावास और 10-10 हजार रूपये अर्थदंड, बलात्कार मामले में आजीवन कारावास एवं 5-5 हजार रूपये अर्थदंड एवं धारा 201 में सात वर्ष के कारावास से दंडित करने का फैसला दिया है। हिन्‍दुस्‍थान समाचार /सुनील/राजू /मयंक
image