Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, अक्तूबर 16, 2018 | समय 20:02 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

टंकी की सफाई करते समय नपा कर्मचारी की मौत

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jun 14 2018 9:39PM
टंकी की सफाई करते समय नपा कर्मचारी की मौत
शाजापुर, 14 जून (हि.स.)। रमजान महिने की विदाई की घड़ी नजदीक आने पर घर में ईद के जश्न को लेकर तैयारियां चल रहीं थी, लेकिन परिवार के लोगों को क्या पता था कि कुदरत ने इस साल इन खुशियों की जगह घर में मातम मनाना लिख दिया है, और ईद से पहले उनका लख्ते जीगर हमेशा के लिए उनसे दूर हो जाएगा। यह गमगीन दास्तां है शहर के महूपुरा मोहल्ला में रहने वाले काले खां के घर की, जहां ईद की तैयारियां उनके 32 वर्षीय बेटे की मौत के बाद मातम में बदल गईं। दरअसल मामला यह है कि महूपुरा निवासी खालिद पिता काले खां विगत दस वर्षों से नगरपालिका में कार्यरत थे और अपनी ड्यूटी के चलते बुधवार को वह किला परिसर स्थित नपा की पानी टंकी को साफ करने के लिए उसमें उतरे थे। टंकी में उतरने के बाद सफाई करते समय अचानक से खालिद का पैर टंकी के पाईप में फंस गया जिससे निकालने के लिए उन्होने काफी मशक्कत की। खालिद के साथियों ने भी बचाने का खुब प्रयास किया, परंतु पर्याप्त आक्सीजन नही मिलने की वजह से खालिद की आंखें बंद हो गईं और वह पानी की टंकी में डूबकर काल का निवाला बन गया। इस घटना के बाद मौके पर आरआई आशीष तिवारी, टीआई आलोकसिंह परिहार, एसआई मनोज सेंधव, जितेंद्र जादौन के साथ ही बड़ी संख्या में खालिद के परिचित और रिश्तेदार जमा हो गए और घंटों की मशक्कत के बाद खालिद को पाईप से बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने परीक्षण के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। खालिद की मौत की खबर के बाद अस्पताल में बड़ी संख्या में समाज के लोग जमा हो गए जिन्हे संभालने के लिए पुलिस बल तैनात करना पड़ा। इस घटना के बाद मुस्लिम समाज गमगीन है। ढाई घंटे तक मौत से लड़ता रहा खालिद नगरपालिका का कर्मचारी खालिद अपनी ड्यूटी के दौरान हर बार की तरह किला परिसर स्थित पानी की टंकी को साफ करने के लिए उसमें उतरा, परंतु इस बार उसका पैर पाइप में फंस गया और करीब ढाई घंटे तक खालिद टंकी में अकेला ही मौत से लड़ता रहा और अंत में पर्याप्त मात्रा में आक्सीजन नही मिल पाने की वजह से वह निढाल होकर पानी में डूब गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार टंकी में करीब 3 फीट पानी था, जिसमें उतर कर खालिद सफाई कर रहा था और उसके साथी भी खड़े हुए थे, तभी खालिद फिसलकर पाइप में जा फंसा और मदद के लिए चिल्लाने लगा इस पर उसके साथियों ने टंकी से बाहर आकर मदद के लिए गुहार लगानी शुरू की। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई जिस पर मौके पर पहुंची पुलिस ने करीब आधा घंटे की मशक्कत के बाद खालिद को पाइप से निकालकर अस्पताल पहुंचाया जहां उसे चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। परिवार के लोगों ने बताया कि खालिद रोजे से था और उसी दौरान पाइप में फंसने से उसकी मौत हो गई। हिन्‍दुस्‍थान समाचार/मंगल/राजू/मयंक
image