Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, अक्तूबर 17, 2018 | समय 02:39 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

गांव की एक साधारण लड़की का किरदार निभा रही हूं फिल्म राजतिलक में : सोनालिका

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jun 14 2018 9:23PM
गांव की एक साधारण लड़की का किरदार निभा रही हूं फिल्म राजतिलक में : सोनालिका
पटना, 14 जून (हि.स.)। पटना की छोरी यानी रजनीश मिश्रा की फिल्‍म राजतिलक की लीड एक्‍ट्रेस सोनालिका प्रसाद को चॉकलेटी स्‍टार अरविंद अकेला कल्‍लू की हंसी खूब भाती है। तभी तो वो उन पर फिदा हुए बिना नहीं रह सकीं। बृहस्पतिवार को पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि कल्‍लू की हंसी को याद करके भी मुझे हंसी आ जाती है। उनकी हंसी में जो मासूमियत है, वो मुझे बहुत अच्छी लगती है। सोनालिका बाबा मोशन पिक्‍चर्स प्राइवेट लिमिटेड के बैनर तले बन रही फिल्‍म राजतिलक से भोजपुरी इंडस्‍ट्री में डेब्‍यू कर रही हैं। इसमें वह कल्‍लू के अपोजिट नजर आने वाली हैं। इस फिल्‍म के निर्माता प्रदीप के शर्मा हैं और निर्देशक रजनीश मिश्रा। फिल्‍म की शूटिंग अभी हाल ही में पूरी हुई है और फिलहाल पोस्‍ट प्रोडक्‍शन का काम भी शुरू हो चुका है। फिल्‍म के बारे में सोनालिका ने बताया कि कि राजतिलक भोजपुरी सिनेमा इंडस्‍ट्री में एक बेंच मार्क सेट करेगी। इस फिल्‍म की कहानी काफी मजबूत और सही मायने में अलग है। इसकी स्‍टोरी राजनीति से प्रेरित है, हिंदी फिल्‍म सरकार राज की तरह। फिल्‍म में मेरा किरदार स्‍वीट और गांव की साधारण लड़की का है, जो अपनी दुनियां में खोयी रहती है। इसी बीच वह हीरो को पसंद आ जाती है और उनकी शादी भी हो जाती है। फिर ससुराल में जिम्‍मेवारियों के बोझ तले उसमें बदलाव भी आता है। इस वजह से वह अपने पति की सही मायनों में जीवन संगिनी बनती है। सोनालिका को इस फिल्‍म से काफी उम्‍मीदें हैं। उन्होंने कहा कि भोजपुरी फिल्‍मों में काफी बदलाव आया है। लोग अच्‍छी फिल्‍में बनाने की कोशिश भी कर रहे हैं। अभी यहां एक्टिंग का दौर चल रहा है। इसलिए मुझे भोजपुरी फिल्‍में करने में कोई दिक्‍कत नहीं है। मुझे मेरे पैरेंटस का भी काफी सपोर्ट मिला है। अश्‍लीलता को लेकर सोनालिका ने कहा कि ऐसे कंटेंट लोगों पर थोपे नहीं जाने चाहिए। यही वजह है कि अब निर्माता व निर्देशक अश्‍लीलता और डबल मीनिंग वाले संवाद से परहेज करना शुरू कर दिया है। सोनालिका ने फिल्‍म की शूटिंग का अनुभव शेयर करते हुए कहा कि फिल्‍म के निर्माता प्रदीप के शर्मा और निर्देशक रजनीश मिश्रा की जितनी तारीफ की जाये कम है। दोनों काफी सपोर्टिव हैं। रजनीश मिश्रा वेल मैनज तरीके से काम करते हैं। तो प्रदीप शर्मा बेहद संजीदा प्रोड्यूसर हैं। वे किसी को भी परेशान नहीं होने देते। जबकि उनकी वाइफ अनिता शर्मा की तो मैं फैन हो गई। वे काफी स्‍वीट हैं। वे काफी केयरिंग भी है। इसके अलावा अवधेश मिश्रा के बारे में कुछ भी कहना मेरे लिए आसान नहीं है। उनकी इमेज इंडस्‍ट्री में अमिताभ बच्‍चन वाली है और वे सच में काफी अच्‍छे कलाकार हैं। अपने को.एक्‍टर्स की सेट पर काफी मदद भी करते हैं। उन्‍होंने कहा कि राज तिलक की शूटिंग के दौरान सुशील सिंह का गांव पूरी टीम को भा गया। अक्‍सर ये बातें सामने आती है कि शूटिंग के दौरान लोकल क्राउड का डिस्‍टर्बेंस होता है। मगर उनके गांव में ऐसा नहीं हुआ। वहां की क्राउड ने हमें परेशान नहीं किया। इसके अलावा सुशील सिंह के रिश्‍तेदारों ने भी हमारा खूब ख्‍याल रखा। एक चीज और जो मुझे फिल्‍म में काफी पसंद आई वो थी कल्‍लू और देव सिंह की फाइट। उसके देखकर खूब मजा आया। ओवर ऑल हमने एक बहुत अच्‍छी फिल्‍म पूरी की है। हिन्दुस्थान समाचार /आलोक/प्रतीक
image