Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, अक्तूबर 17, 2018 | समय 02:23 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

श्रम विभाग में 40 लाख 25 हजार का घोटाला

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jun 14 2018 9:15PM
श्रम विभाग में 40 लाख 25 हजार का घोटाला
सुल्तानपुर, 14 जून (हि.स. )। जनपद में आकस्मिक श्रमिक मृतकों के आश्रितों को भरण पोषण में के लिये बांटी जाने वाली राशि क घोटाला हो गया। मानवता को शर्मसार करने वाले इस गिरोह के मुख्य अभियुक्त सहायक श्रम आयुक्त राम उजागिर सहित विभाग के चार कर्मचारी शामिल हैं। जिलाधिकारी ने गुरुवार को प्राथमिकी दर्ज कर कड़ी कार्यवाही करने की संस्तुति की है। जनपद में 19 श्रमिकों की मृत्यु के पश्चात उनके आश्रितों को मिलने वाली सहायता राशि में 40 लाख 25 हजार रूपये का घोटाला सामने आया है। इस घोटाले में गिरोह के रूप में सहायक श्रम आयुक्त कार्यालय, सुल्तानपुर के सहायक श्रम आयुक्त राम उजागिर सहित चार कर्मचारी शामिल हैं। इसके अतिरिक्त 09 अन्य लोगों का नाम भी सामने आया है। जिलाधिकारी विवेक कुमार ने बताया कि गिरोह में शामिल विभाग के सहायक श्रम आयुक्त राम उजागिर, सहायक लेखाकार अमरीश राय समेत ओकांर मौर्या, अभिषेक तिवारी शामिल हैं। वहीं अन्य 09 बाहरी लोगों का नाम आया है। जिलाधिकारी ने कहा कि इनके खिलाफ कठोर कार्यवाही कि जाएगी और सभी आरोपियों से धनराशि की वसूली कर लाभाथियों को दी जाएगी। गौरतलब है कि पिछले 23 मई को जिलाधिकारी के जनता दरबार में छह महिलाएं शिकायत लेकर आयीं थी। इनकी शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी ने सहायक श्रमायुक्त को जांच का आदेश दिया था। पत्रावली में सभी आवेदकों के बैंक खाता अलग अलग मिलने आदि कई मामले संदिग्ध होने पर विभाग की जांच के लिए जिलाधिकारी ने तीन सदस्यों की कमेटी का गठन किया। रिपोर्ट के आधार पर जिलाधिकारी ने दावा किया है कि गिरोह और विभागीय कर्मचारी ओंकार मौर्य के बीच रुपये के लेनदेन की एक सीडी भी मिली है। कहा कि इस तरह से अन्य जिलों में पूर्व कार्यरत सहायक श्रम आयुक्त की जांच के लिए शासन को पत्र लिखा जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/दयाशंकर/रामाशीष/राजेश
image