Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, दिसम्बर 15, 2018 | समय 04:17 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

मरहदा जंगल से अपहृत मुंशी सकुशल लौटा

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jun 14 2018 9:10PM
मरहदा जंगल से अपहृत मुंशी सकुशल लौटा
रांची, 14 जून (हि.स.)। पुलिस ने नामकुम थाना क्षेत्र से सड़क निर्माण कंपनी संतोष कंस्ट्रक्शन के मुंशी आकाश उरांव को खूंटी के मरहदा जंगल से अपहरण के 42 घंटे के सकुशल बरामद किया है। अपहरण की सूचना मिलते ही ग्रामीण एसपी अजीत पीटर डुंगडुंग ने पुलिस की कई टीम को मुंशी को मुक्त कराने में लगाया था। पुलिस टीम नामकुम जंगल की घेराबंदी कर लगातार छापेमारी कर रही थी। पुलिस के दबाव में घबराकर अपराधियों ने प्रकाश को मुक्त कर दिया। अपहरणकर्ता से मुक्त होकर प्रकाश के लौटने के बाद डीएसपी हेड क्वार्टर अमित कच्छप ने उससे पूछताछ की। लेकिन प्रकाश के डरे सहमे होने के कारण पुलिस ने उसे घर पहुंचा दिया है। बाद में उससे पूछताछ की जाएगी। सूत्रों का कहना है कि परिजनों ने फिरौती की रकम अपराधियों को दी। इसके बाद आकाश को रिहा किया गया है। हालांकि पुलिस इससे इंकार कर रही है। क्या है मामला नामकुम थाना क्षेत्र के हड़ाप पंचायत के सपारोम में सड़क निर्माण कार्य में लगी संतोष कंस्ट्रक्शन के मुंशी आकाश उरांव का अपहरण मंगलवार देर रात कर लिया गया था। आकाश अपनी स्कूटी पर अपने सहकर्मी यशंवत के साथ काम खत्म कर लौट रहा था। इसी दौरान सपारोम व कोचड़ो के बीच पुल के समीप छिपकर बैठे चार अपराधियों ने दोनों को रुकवाया था। इसके बाद हथियार के बल दोनों को अपने कब्जे में ले लिया था। चारों अपराधी हथियार से लैश थे। जिसके बाद तीन अपराधी आकाश को स्कूटी समेत पहाड़ की ओर ले गये थे। जबकि एक अपराधी यशवंत के पास रुका रहा था। इसी दौरान यशंवत मौके से भागने लगा। इस क्रम में दोनों के बीच हाथापाई भी हुई थी। जिसमें अपराधी की पिस्तौल खुल गई और गोली नीचे गिर गई थी। इसके बाद घायल यशवंत ने हल्ला किया था , तो कई ग्रामीण मौके पर पहुंचे थे। इसके बाद ग्रामीणों को देखकर अपराधी वहां से भाग गये थे। आकाश को कब्जे में लेने के बाद उसके मोबाईल से फोन कर परिजनों को अपहरण की बात बतायी गयी थी। रिहाई के लिए अपराधियों ने 15 लाख रुपये की मांग आकाश के भाई प्रकाश उरांव के अलावे साइट इंचार्ज को भी फोन कर फिरौती की मांग की थी। अपहरणकर्ताओं ने दोबरा फोन कर 12 लाख रुपये की मांग की थी। हिन्दुस्थान समाचार /विकास/महेश/प्रतीक
image