Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, अक्तूबर 22, 2018 | समय 21:31 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

हिन्दुस्थान समाचार

परिचय :-

 "हिन्दुस्थान समाचार" भारत की 1948 में स्थापित सबसे पुरानी समाचार एजेंसी है। सभी प्रमुख भारतीय भाषाओं में समाचार प्रदान करने वाली यह एकमात्र बहुभाषी समाचार एजेंसी हैं। 

हमारे कार्यालय भारत के हर राज्य में हैं.

 सहकारी संवाद समिति हिन्दुस्थान समाचार समूह वर्तमान में 3 पत्रिकाओं का प्रकाशन कर रहा है - नवोत्थान (मासिक), यथावत (पाक्षिक) और युगवार्ता (साप्ताहिक)।

वर्तमान में यह सेवा हिंदी, मराठी, गुजराती, नेपाली, उड़िया, असमी, कन्नड़, तमिल, मलयालम, तेलगु, सिंधी, संस्कृत, पंजाबी और बांग्ला में प्रदान की जा रही है। अन्य भाषाओं को भी कवर करने के प्रयास चल रहे हैं।  सेवा पूरी तरह से वेब इंटरनेट प्रौद्योगिकी पर आधारित है, ग्राहक या तो डाउनलोड कर सकते हैं या इसे ई-मेल प्रारूप में परिवर्तित कर सकते हैं।

हमारे सब्सक्राइब

हमारे प्रयासों की सराहना हमारे ग्राहकों द्वारा की गई है लगभग समस्त प्रमुख हिंदी समाचारपत्रों के साथ कई क्षेत्रीय भाषा के समाचारपत्र हमारे नियमित सब्सक्राइबर हैं। इसके अलावा कुछ राज्य-सरकारों, संगठन और संस्थान हमारी न्यूज़ स्कैन सेवा की सदस्यता ले रहे हैं।

मीडिया में महत्वपूर्ण भूमिका

हिन्दुस्थान समाचार भारत के मीडिया संस्थानों को महत्वपूर्ण सेवा प्रदान कर रहीं है। एक तरफ यह राज्य की राजधानी से अलग-अलग भाषाओं के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में समाचारों को उपलब्ध करा रही है, वहीँ यह राष्ट्रीय समाचार पत्रों के लिए ग्रामीण क्षेत्रों और सुदूर क्षेत्रों की खबरें भी उपलब्ध करा रही है।

स्वर्णिम इतिहास

करोड़ों भारतीयों की आवाज़ बनने के लिए, 1 दिसंबर, 1948 को हिन्दुस्थान समाचार का गठन किया गया था। 1951 में बिहार सरकार ने हिन्दुस्थान समाचार का सब्सक्रिप्शन प्रारंभ किया तदुपरांत ,उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, पंजाब, हरियाणा, बिहार, राजस्थान, ओडिशा, असम, कर्नाटक और केरल के प्रमुख मिडिया समूहों और राज्य सरकारों ने सेवा लेनी प्रारम्भ की।

इसके अलावा राज्य सरकार और सैकड़ों अन्य संस्थानों हमारी न्यूज़ स्कैन सेवा भी ले रहें है। 

1964 से नेपाल रेडिओ - टीवी और आकाशवाणी - दूरदर्शन ने भी हिन्दुस्थान समाचार से सेवा लेनी प्रारम्भ की।

हिन्दुस्थान समाचार की उपलब्धि राष्ट्रीय मीडिया के विकास में एक मील का पत्थर है। हिन्दुस्थान समाचार ने क्षेत्रीय समाचार पत्रों को एक नया आयाम प्रदान किया है । सामाजिक और विकास सम्बन्धी गतिविधियों में केंद्रित हिन्दुस्थान समाचार, खबरों और विश्लेषणात्मक रिपोर्टों के माध्यम से,पाठकों के बीच खबरों की जरुरत और जागरूकता पैदा करने में सफल रहा है।

एक नई शुरुआत

विवेकशील और संकल्पशील हिन्दुस्थान समाचार के शेयरधारकों ने समय की मांग को देखते हुए  2000 में हिन्दुस्थान समाचार ने मीडिया क्षेत्र में उभरती हुई चुनौतियों का सामना करने के लिए अभिनव उपायों के साथ नयी शुरुआत करने का निर्णय लिया ताकि यह फिर से अपने पुराने गौरवशाली इतिहास के आगे नए प्रतिमान स्थापित कर सकें।

आज हिन्दुस्थान समाचार 14 भारतीय भाषाओं में समाचार उपलब्ध करा रहा है और इसे आगे बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयत्नशील है।

हमारी  सेवायें :

नेटवर्क -

हिन्दुस्थान समाचार ने समाचार संकलन के लिए देश के अधिकांश राज्यों की राजधानियों और नगरों में कार्यालय स्थापित किये हैं। देशभर में स्थापित कार्यालय विभिन्न भाषाओं में श्रेष्ठ समाचार प्रदान करते है। इसके अलावा करीब 250 महत्वपूर्ण स्थानों पर संवाददाता पल-पल की ख़बरें संकलित करते हैं। 

देश के अलावा अमेरिका,नेपाल,थाईलैंड, मॉरीशस, न्यूजीलैंड आदि देशों में भी हिन्दुस्थान समाचार के संवाददाता कार्यरत हैं।

समाचार-पत्रों की मांग और जरुरत के अनुसार सभी क्षेत्रों के समाचार उपलब्ध कराना समिति की खासियत है। 

 

न्यूज़ सेवा -

हिन्दुस्थान समाचार द्वारा सभी भारतीय भाषाओं में प्रसारित होने वाली खबरों को वेबसाइट www.hindusthansamachar.in पर देखा जा सकता है। 

समाचार के अलावा, समकालीन मुद्दों पर लेख और अन्य जानकारी देखी सकती है।

एजेंसी समाचार पत्रों और ग्राहकों की सदस्यता के लिए एक पासवर्ड प्रदान करती है, इस पासवर्ड की सहायता से, ग्राहक वांछित खबरों को डाउनलोड कर सकता है।

इलेक्ट्रॉनिक न्यूज़ प्रोडक्शन सर्विसेज के अंतर्गत कार्य की पारदर्शिता बनाये रखने के कार्य को एनपीएस के द्वारा ही मॉनिटर किया जाता हैं। 

न्यूज़ स्कैन सेवा -

आधुनिक तकनिकी और प्रौद्योगिकी को ध्यान में रखते हुए हिन्दुस्थान समाचार न्यूज़ स्कैन सेवा का सञ्चालन भी करता है।  इसमें हम सब्सक्राइबर्स को कंप्यूटर पर निरंतर समाचार भेजे जाते है और सब्सक्राइबर उन्हें अपनी इच्छानुसार डाउनलोड भी कर सकता है। 

मध्यप्रदेश , छत्तीसगढ़ , हिमांचल - प्रदेश, हरियाणा की राज्य सरकारें न्यूज़ स्कैन की लाभदायक सेवा ले रहीं है। 

यथावत (पाक्षिक मैगज़ीन) - दिल्ली से 2013 में यथावत का प्रकाशन प्रारम्भ किया गया.

यथावत, पाक्षिक मैगज़ीन ने बहुत काम समय में मार्केट में अपनी विशिष्ट पहचान बना ली है। पत्रिका को हिन्दुस्थान समाचार समूह के चैयरमैन , मा. राज्यसभा सांसद और एसआईएस समूह के चैयरमैन श्री आरके सिन्हा ने स्थापित किया था। श्री सिन्हा स्वयं प्रतिष्ठित पत्रकार रहें है। सिद्धांतवादी और निष्पक्ष पत्रकार के रूप में स्थापित व्यक्तित्व पद्मश्री राम बहादुर राय यथावत के संपादक है। ब्रेकिंग न्यूज़ के  दिन-रात चलने वाले इलेक्ट्रॉनिक समय में यथावत पत्रिका ने बहुत कम समय में मजबूत ब्रांड के रूप में जगह बनायीं है। 

वर्तमान में यथावत की प्रसार संख्या 1.57 लाख है और 6.24 लाख रीडरशिप के साथ यथावत पाठकों की पसंदीदा पत्रिका है।

युगवार्ता - (साप्ताहिक समाचार- पत्र) - 1968  में शुरू किया गया युगवार्ता हिंदी भाषा में प्रकाशित एक साप्ताहिक समाचार- पत्र है। विगत पांच दशक से युगवार्ता हज़ारों पाठकों की आवाज़ बना हुआ है। 

इस साप्ताहिक पत्र में समसामयिक, राजनैतिक, सामजिक , आर्थिक , मनोरंजक , साहित्य, कला, संस्कृति,सिनेमा ,खेल के साथ-साथ ऐसे मुद्दों को कवर किया जाता है जिनका सम्बन्ध सीधे जनसरोकार से है।

पाठकों के बिच में युगवार्ता देश -विदेश की नब्ज पहचानने के लिए जानी जाती है।

युवाओं के लिए पठनीय मुद्दे युगवार्ता को और रुचिकर बनाते है।

वर्तमान में युगवार्ता की प्रसार संख्या 1.53 लाख है और 6.11 लाख रीडरशिप के साथ यथावत पाठकों का  पसंदीदा समाचार- पत्र  है।

 

नवोत्थान (मासिक पत्रिका) - हिन्दुस्थान समाचार द्वारा प्रकाशित नवोत्थान में देश-विदेश के जाने माने विशेषज्ञों द्वारा ज्यलंत विषयों के लेख मुख्य आकर्षण होते है। रुपये २०० जमा कर नवोत्थान की वार्षिक सदस्यता घर बैठे लेकर बेहद लाभदायक लेख पढ़ सकते हैं।  नवोत्थान की सेवा हिंदी और बांग्ला में प्रारम्भ हो चुकी है और जल्द ही यह अन्य भाषाओं में भी प्रकाशित होगी।

छाया-चित्र सेवा (फोटोग्राफ्स सर्विस) - समाचारों के साथ ही हिन्दुस्थान समाचार देश-विदेश की महत्वपूर्ण घटनाओं से जुड़े छायाचित्रों को भी उपलब्ध कराता है। समिति की वेबसाइट से छायाचित्रों को प्राप्त किया जा सकता है।

सोशल मीडिया द्वारा त्वरित समाचार - हिन्दुस्थान समाचार सेवा हर प्रमुख खबर को ब्रेकिंग या फ्लैश के रूप में सोशल मीडिया के माध्यम से तत्क्षण प्रसारित करता है। सोशल मीडिया में हिन्दुस्थान समाचार ट्विटर , फेसबुक और यूं-ट्यूब पर बहुभाषी सेवा प्रदान कर सक्रिय है।  हिंदी और अंग्रेजी के अलावा बांग्ला, गुजरती ,असमिया , मराठी , पंजाबी, नेपाली , उड़िया और  उर्दू भाषा में हैंडल सुचारु रूप से काम कर रहें हैं।

 

अलग -अलग क्षेत्रों से आरहे वीडियो भी यूट्यूब चैनल पर अपलोड किये जाते है।